spot_img

अहमद पटेल के खिलाफ SIT के आरोप मनगढ़ंत और शरारती: Congress

New Delhi: कांग्रेस ने शनिवार को गुजरात पुलिस एसआईटी (SIT) के उन आरोपों को ‘शरारती और मनगढ़ंत’ करार दिया, जिसमें उन्होंने दिवगंत कांग्रेस नेता अहमत पटेल पर सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ को पैसे देने और तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ‘बड़ी साजिश’ रचने का दावा किया था।

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा, यह 2002 में गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में किए गए सांप्रदायिक नरसंहार के लिए किसी भी जिम्मेदारी से खुद को मुक्त करने के लिए प्रधानमंत्री की व्यवस्थित रणनीति का हिस्सा है। इस नरसंहार को नियंत्रित करने की उनकी अनिच्छा और अक्षमता ही थी, जिसने भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को मुख्यमंत्री को उनके राजधर्म की याद दिलाने के लिए प्रेरित किया था।

बयान में कहा गया है कि यह प्रधानमंत्री का राजनीतिक प्रतिशोध है, जो दिवंगत को भी नहीं बख्शती।
जयराम ने कहा, यह एसआईटी अपने राजनीतिक गुरु की धुन पर नाच रही है और जहां से कहा जाएगा वहीं बैठ जाएगी। हम जानते हैं कि कैसे एक पूर्व एसआईटी प्रमुख को मुख्यमंत्री को ‘क्लीन चिट’ देने के बाद एक राजनयिक कार्य के साथ पुरस्कृत किया गया था।

उन्होंने कहा कि कठपुतली जांच एजेंसियां वर्षों से मोदी-शाह की जोड़ी की रणनीति की पहचान रही है।कांग्रेस नेता ने कहा, यह उसी का एक और उदाहरण है। एक मृत व्यक्ति को बदनाम किया जा रहा है।

बता दें, अहमद पटेल का कोरोना की पहली लहर के दौरान 25 नवंबर 2020 को निधन हो गया था।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!