spot_img

काश, प्रधानमंत्री ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान किसी अस्पताल का दौरा किया होता: कांग्रेस

पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने यह आरोप भी लगाया कि प्रधानमंत्री का नये संसद भवन के निर्माण स्थल का दौरा करना ‘असंवेदनशील’ रुख हैं।

New Delhi: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नए संसद भवन के निर्माण स्थल का दौरा करने को लेकर सोमवार को कटाक्ष करते हुए कहा कि काश, उन्होंने कोरोना महामारी दूसरी लहर के दौरान किसी अस्पताल का दौरा किया होता जब लोग अपने प्रियजन की जान बचाने के लिए संघर्ष कर रहे थे।

पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने यह आरोप भी लगाया कि प्रधानमंत्री का नये संसद भवन के निर्माण स्थल का दौरा करना ‘असंवेदनशील’ रुख हैं।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘तीन महीने पहले (दूसरी लहर) जब लोग अपने प्रियजन को बचाने की जद्दोजहद कर रहे थे, काश, उस वक्त प्रधानमंत्री किसी अस्पताल या किसी निर्माणाधीन अस्पताल का दौरा कर लेते। लेकिन संसद के निर्माणाधीन स्थल का दौरे का हम समर्थन नहीं कर सकते। यह असंवेदनशील रुख है।’’

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को नए संसद भवन के निर्माण स्थल का दौरा किया और वहां चल रहे निर्माण कार्य का जायजा लिया। नए संसद भवन का निर्माण अगले वर्ष के दूसरे पूर्वार्ध तक पूरा होने की उम्मीद है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मोदी ने निर्माण कार्य का निरीक्षण किया और इसमें लगे लोगों से बातचीत की।

यह इमारत सेंट्रल विस्टा परियोजना का हिस्सा है जिसको लेकर विपक्ष सरकार पर निशाना साधता रहा है। सरकारी अधिकारियों के अनुसार, 2022 में संसद का शीतकालीन सत्र नए भवन में होगा। संसद के नए भवन का क्षेत्रफल 64,500 वर्गफुट होगा।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!