spot_img

भारतीय रेलवे ने रचा कीर्तिमान, पहली बार विदेश पहुंची विशेष पार्सल ट्रेन


नई दिल्ली।

भारतीय रेल ने पहली बार पार्सल ट्रेन भारत से बाहर भेजी है. ये काम कर इंडियन रेलवे ने एक और कीर्तिमान अपने नाम कर लिया है. रेलवे ने आंध्रप्रदेश के गुंटूर जिले से सूखी मिर्च विशेष पार्सल ट्रेन से पड़ोसी देश बांग्लादेश तक पहुंचाई है.

आंध्र प्रदेश में मिर्ची की बड़े पैमाने पर मिर्ची की खेती की जाती है. यहां गुंटूर और इसके आसपास के इलाकों में मिर्ची की खेती की जाती है. इसकी गुणवत्ता काफी अच्छी होने के कारण ये अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मशहूर हैं.

इससे पहले गुंटूर के आसपास के किसान और व्यवसायी कम मात्रा में सड़क मार्ग से सूखी मिर्ची बांग्लादेश ले जाते थे. कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन के दौरान जब माल सड़क मार्ग से नहीं जा सका तो रेलवे के अधिकारियों ने उन्हें रेलगाड़ी से परिवहन की सुविधा देने के लिए संपर्क किया.

रेलवे ने इस बाबत कहा, ‘भारतीय रेलवे ने पहली बार विशेष मालगाड़ी से आंध्रप्रदेश के गुंटूर जिले के रेड्डीपालेम से सूखी मिर्ची बांग्लादेश के बेनापोल तक पहुंचाई.’

इंडियन रेलवे के अधिकारियों के मुताबिक 10 जुलाई को विशेष पार्सल ट्रेन से सूखी मिर्ची बांग्लादेश के बेनापोल ले जाई गई. रेलवे के इस कदम से ट्रांसपोर्टेशन का खर्चा भी कम हो गया. बता दें कि सड़क के रास्ते बांग्लादेश मिर्ची पहुंचाने का खर्च प्रति टन 7000 रुपये आता है जबकि इसे मालगाड़ी से भेजने का खर्च प्रति टन 4608 रुपये आया.

हाल के दिनों में रेलवे ने कई उपल्ब्धियों को अपने नाम किया है, जिसमें 2.8 किलोमीटर लंबी मालगाड़ी को दौड़ाना, एक दिन में 100 फीसदी ट्रेनों को टाइम पर पहुंचाना आदि शामिल है.

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!