Global Statistics

All countries
176,217,468
Confirmed
Updated on Saturday, 12 June 2021, 11:21:02 pm IST 11:21 pm
All countries
158,466,080
Recovered
Updated on Saturday, 12 June 2021, 11:21:02 pm IST 11:21 pm
All countries
3,803,257
Deaths
Updated on Saturday, 12 June 2021, 11:21:02 pm IST 11:21 pm

Global Statistics

All countries
176,217,468
Confirmed
Updated on Saturday, 12 June 2021, 11:21:02 pm IST 11:21 pm
All countries
158,466,080
Recovered
Updated on Saturday, 12 June 2021, 11:21:02 pm IST 11:21 pm
All countries
3,803,257
Deaths
Updated on Saturday, 12 June 2021, 11:21:02 pm IST 11:21 pm
spot_imgspot_img

हज यात्रियों का पहला जत्था रवाना


नई दिल्ली:

देश की सलामती, हिफाज़त, कामयाबी और खुशहाली की दुआओं के साथ हज यात्रियों का पहला जत्था साउदी अरब के लिए रवाना हुआ. केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं संसदीय कार्य राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने हज 2017 के लिए 300 हज यात्रियों के पहले जत्थे को इंदिरा गाँधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के हज टर्मिनल से रवाना किया.

p                                                                                                 
हज यात्रियों को रवाना करते केंद्रिय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी

मुख्तार अब्बास नकवी ने हज यात्रियों को शुभकामनाएं दी. मंत्री नकवी ने कहा कि इस बार अल्पसंख्यक मंत्रालय ने हज कमिटी ऑफ इंडिया एवं अन्य सम्बंधित एजेंसियों के साथ मिल कर हज 2017 की तैयारियां समय से बहुत पहले ही पूरी कर ली थी, ताकि हज यात्रा को सरल-सुगम बनाया जा सके.
नकवी ने कहा कि नई हज नीति-2018 जल्द ही तैयार कर ली जाएगी और अगले साल से हज यात्रा नई हज पाॅलिसी के अनुसार आयोजित किया जायेगा.  हज नीति 2018 तय करने के लिए उच्च स्तरीय कमेटी अपनी रिपोर्ट जल्द ही सौंप देगी. नई हज पाॅलिसी का उद्देश्य हज की संपूर्ण प्रक्रिया को सरल और पारदर्शी बनाना है. इस नई पाॅलिसी में हज यात्रियों के लिए विभिन्न सुविधाओं का पूरा ध्यान रखा जायेगा. समुद्री मार्ग से भी हज यात्रा को दोबारा शुरू करना भी इस नई हज पाॅलिसी में शामिल है.
बता दें कि हज यात्रियों के मुंबई से समुद्री मार्ग के जरिये जेद्दा जाने का सिलसिला 1995 में रुक गया था. हज यात्रियों को जहाज (समुद्री मार्ग) से भेजने पर यात्रा संबंधी खर्च करीब आधा हो जाएगा. नई तकनीक एवं सुविधाओं से युक्त पानी का जहाज एक समय में चार से पांच हजार लोगों को ले जाने में सक्षम है. मुंबई और जेद्दा के बीच 2,300 नॉटिकल मील की एक ओर की दूरी सिर्फ दो-तीन दिनों में पूरी कर सकते हैं. जबकि पहले पुराने जहाज से 12 से 15 दिन लगते थे.
हज 2017 के लिए सऊदी अरब द्वारा कोटे में की गई बड़ी वृद्धि के बाद हज कमेटी ऑफ इंडिया के माध्यम से 1,25,025 हाजी हज यात्रा पर जायेंगे. जबकि 45,000 हज यात्री प्राइवेट टूर ऑपरेटरों के माध्यम से हज पर जायेंगे. इस वर्ष भारत में 21 केंद्रों से कुल 1,70,025 हज यात्री भारत से हज यात्रा पर जायेंगे.
इस वर्ष भारत में 21 केंद्रों से 1 लाख 70 हजार से ज्यादा हज यात्री हज पर जा रहे हैं. दिल्ली से 1628 हज यात्री हज पर जायेंगे. इसके अलावा हरियाणा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़ से हाजियों को मिलकर दिल्ली से 16,600 हज यात्री हज पर जा रहे हैं.
आज नई दिल्ली के अलावा गोवा, गुवाहाटी, लखनऊ, मंगलौर, वाराणसी से भी हज यात्री सऊदी अरब जा रहे हैं. 25 जुलाई को श्रीनगर और कोलकाता से, 27 जुलाई को गया से, 8 अगस्त को रांची, कोलकाता, भोपाल और बैंगलोर से, 10 अगस्त को नागपुर से, 13 अगस्त को अहमदाबाद, औरंगाबाद, चेन्नई, कोचीन, जयपुर, 14 अगस्त को इंदौर और हैदराबाद से हज यात्री रवाना होंगे.
21 हज यात्रा केंद्रों में शामिल हैं-  दिल्ली, गोवा, गौहाटी, लखनऊ, मंगलौर, वाराणसी, श्रीनगर, कोलकाता, गया, रांची, भोपाल, बैंगलोर, मुंबई, नागपुर, अहमदाबाद, औरंगाबाद, चेन्नई, कोचीन, जयपुर, इंदौर, हैदराबाद हैं. अहमदाबाद से 10958 , कोचीन से 11657, लखनऊ से 12380, मुंबई से 5605, औरंगाबाद से 2729 , बैंगलोर से 4641, चेन्नई से 3370 , गौहाटी से 4483 , हैदराबाद से 6273, जयपुर से 4777, कोलकाता से 10348 , लखनऊ से , 12380 , मुंबई से 5605 , नागपुर से 2187, रांची से 3159 हाजी हज यात्रा पर जा रहे हैं.

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles