spot_img

जोरदार उठापटक के बाद मामूली कमजोरी के साथ बंद हुआ शेयर बाजार

भारतीय शेयर बाजार (Indian Share Market) की चाल आज निवेशकों को हैरान परेशान करने वाली रही। शेयर बाजार ने सुबह जहां ऑल टाइम हाई का नया रिकॉर्ड बनाया, वहीं कारोबार खत्म होते-होते नीचे गिर कर निवेशकों को चूना भी लगा गया।

New Delhi: भारतीय शेयर बाजार (Indian Share Market) की चाल आज निवेशकों को हैरान परेशान करने वाली रही। शेयर बाजार ने सुबह जहां ऑल टाइम हाई का नया रिकॉर्ड बनाया, वहीं कारोबार खत्म होते-होते नीचे गिर कर निवेशकों को चूना भी लगा गया।

सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शेयर बाजार में ऊंचे स्तर पर हुई तेज बिकवाली के कारण बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) दोनों ही शेयर बाजार मामूली गिरावट के साथ बंद हुए। बीएसई का सेंसेक्स 18.79 अंक की कमजोरी के साथ 53,140.06 अंक के स्तर पर बंद हुआ। एनएसई के निफ्टी ने महज 0.80 अंक गिरकर 15,923.40 अंक के स्तर पर आज के कारोबार का अंत किया। राहत की बात यही रही कि सेंसेक्स 53 हजार और निफ्टी 15,900 के मेंटल बैरियर लेवल से ऊपर बंद होने में सफल रहे।

सुबह बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) के सेंसेक्स ने 85.55 अंक की मजबूती के साथ 53,244.40 अंक के स्तर से आज के कारोबार की शुरुआत की। कारोबार शुरू होने के बाद 15 मिनट के अंदर में ही खरीदारी के जोर पर सेंसेक्स उछल कर 53,290.81 अंक के स्तर पर पहुंच गया। इस तरह सेंसेक्स ने लगातार दूसरे दिन ऑल टाइम हाई का नया रिकॉर्ड बनाया। इसके पहले गुरुवार को भी सेंसेक्स ने 53,266.12 अंक के स्तर पर पहुंच कर ऑल टाइम हाई का नया रिकॉर्ड बनाया था। सेंसेक्स ने शुरुआती लिवाली के बल पर ऑल टाइम हाई का रिकॉर्ड बना तो लिया लेकिन उसके लिए इस स्तर पर टिकना या इससे आगे निकल पाना संभव नहीं हो सका, क्योंकि इस स्तर पर शेयर बाजार में बिकवाली का दबाव बन गया। इसके साथ ही सेंसेक्स तेजी से नीचे फिसलने लगा।

बिकवाली के इस दौर में सेंसेक्स लुढ़कर कर 53,094.75 अंक के स्तर पर आ गया। हालांकि इस स्तर पर पहुंचने के बाद एक बार फिर लिवाली का दौर शुरू हुआ। इससे सेंसेक्स की गति सुधरती हुई नजर आई, लेकिन सेंसेक्स की ये उछाल भी देर तक कायम नहीं रही। बिकवालों की एक कोशिश में ही सेंसेक्स दोबारा लुढ़कने लगा। सेंसेक्स की ये गिरावट आज के टॉप लेवल से 293.72 अंक नीचे 52,997.09 अंक के स्तर पर जाकर रुकी। इसके बाद एक बार फिर बाजार में खरीदारी का रुख बन गया, जिसके कारण सेंसेक्स ने आखिरी समय में अपनी स्थिति को कुछ सुधारते हुए 18.79 अंक की कमजोरी के साथ 53,140.06 अंक के स्तर पर अपने आज के कारोबार का अंत किया।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के निफ्टी ने आज 34.15 अंक की तेजी के साथ 15,958.35 अंक के स्तर पर कारोबार की शुरुआत कर एक बार फिर ऑल टाइम हाई का नया रिकॉर्ड बनाया। हालांकि इस रिकॉर्ड पर निफ्टी टिक नहीं सका और बिकवाली के दबाव में एक बार 15,930 अंक तक लुढ़क भी गया, लेकिन 15 मिनट के कारोबार में ही दोबारा लिवाली का फायदा उठाकर 15,962.25 अंक के स्तर पर पहुंच एक दिन में दूसरी बार ऑल टाइम हाई का एक और रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज करा लिया।

ऑल टाइम हाई पर पहुंचने के बाद निफ्टी अपनी गति को बरकरार नहीं रख सका और बिकवाली के दबाव में वह लगातार गिरता चला गया। कारोबार शुरू होने के 1 घंटे के अंदर ही ऑल टाइम हाई का नया रिकॉर्ड बनाने वाला निफ्टी फिसल कर लाल निशान में पहुंच गया। बीच-बीच में खरीदारी के बल पर निफ्टी को कुछ जान जरूर मिली, लेकिन खरीदारी से ज्यादा बिकवाली होने के कारण इस सूचकांक में लगातार कमजोरी बनी रही। बिकवाली के दबाव में निफ्टी आज के टॉप लेवल से 79.65 अंक तक लुढ़क कर 15,882.60 अंक के स्तर तक आ गया। हालांकि अंत में इंट्रा डे सौदों के सेटलमेंट के कारण निफ्टी की स्थिति में कुछ सुधार हुआ और ये 0.80 अंक की सांकेतिक कमजोरी के साथ 15,923.40 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

शेयर बाजार में आज दिनभर उठापटक का दौर चलता रहा। दिग्गज शेयरों में आज लगातार उतार-चढ़ाव बना रहा। छोटे और मंझोले शेयर में तेजी बनी रही। मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों के प्रति निवेशकों के रुझान की वजह से निफ्टी मिडकैप इंडेक्स में 0.35 फीसदी की मजबूती आई, वही स्मॉल कैप इंडेक्स भी 1.35 फीसदी उछलकर बंद हुआ।

शेयर बाजार को आज मेटल सेक्टर, फार्मा सेक्टर और रियल्टी सेक्टर की तेजी से काफी सपोर्ट मिला। इन तीनों सेक्टर में 1 फीसदी से अधिक की उछाल बनी रही। अगर इंडिविजुअल शेयर की बात करें, तो टाटा स्टील, रिलायंस इंडस्ट्रीज, भारती एयरटेल, डिवीज लैब और अल्ट्राटेक सीमेंट जैसी कंपनियों के शेयर में हुई खरीदारी से बाजार को काफी सपोर्ट मिला। आईसीआईसीआई बैंक, बजाज फिनसर्व, अडाणी पोर्ट्स, एचसीएल टेक्नोलॉजी, इंफोसिस और एनटीपीसी जैसी कंपनियों के शेयरों में हुई जोरदार बिकवाली से शेयर बाजार पर दबाव भी बना।

एशियाई शेयर बाजारों में भी आज हांगकांग के हेंगसेंग इंडेक्स को छोड़कर दूसरे सभी इंडेक्स में कमजोरी की स्थिति बनी रही। जापान का निक्केई इंडेक्स 0.98 फीसदी की कमजोरी के साथ 28,001 अंक के स्तर पर बंद हुआ। चीन का शंघाई कंपोजिट इंडेक्स 0.71 फीसदी टूट कर 3,539.30 अंक के स्तर पर बंद हुआ। कोरिया के कोस्पी इंडेक्स ने भी 0.2 8 फीसदी की कमजोरी दिखाई और 3,276.91 अंक के स्तर पर अपना आज का कारोबार खत्म किया। सिर्फ हांगकांग के हेंगसेंग इंडेक्स में बढ़त रही। हेंगसेंग ने 0.39 फीसदी की मजबूती के साथ 28,082 अंक के स्तर पर आज के कारोबार का अंत किया।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!