spot_img

Bihar: CM हाउस के 21 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

बिहार में कोरोना (Corona In Bihar) की रफ्तार बढ़ती जा रही है। पटना हॉट स्पॉट (Hot Spot) बना हुआ है। सीएम हाउस के 21 कर्मचारी भी पॉजिटिव पाए गए हैं।

Patna: बिहार में कोरोना (Corona In Bihar) की रफ्तार बढ़ती जा रही है। पटना हॉट स्पॉट (Hot Spot) बना हुआ है। सीएम हाउस के 21 कर्मचारी भी पॉजिटिव पाए गए हैं। बिहार विधान परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। वह पिछले साल भी पॉजिटिव हुए थे। इसके अलावा दोनों डिप्टी सीएम समेत चार मंत्रियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है।

कोरोना संक्रमित मंत्रियों में डिप्टी सीएम रेणु देवी, डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद, मद्य निषेध मंत्री सुनील कुमार और भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी शामिल हैं। उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है। इससे पहले चार जनवरी को 893 नए मामले आए थे, जिसके बाद नाइट कर्फ्यू लगाकर पाबंदियां बढ़ा दी गई हैं। हालात पिछले साल की जून की तरह ही हो गए हैं। जून में सात तारीख को एक दिन में 762 नए मामले आए थे।

पटना नालंदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (NMCH) में भर्ती कोरोना संक्रमित 65 साल के राधेश्याम प्रसाद की मौत हो गई है। राधेश्याम प्रसाद बख्तियारपुर के रहने वाले थे और उन्हें चार जनवरी को नालंदा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। नालंदा मेडिकल कॉलेज के नोडल पदाधिकारी डॉ. मुकुल कुमार सिंह ने इसकी पुष्टि की है। आरा के नवोदय विद्यालय में 17 छात्र कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

इसके अलावा अभी ऐसे भी संक्रमित हैं जो डिटेक्ट नहीं हो पाए हैं। इनमें विदेश से आने वाले लोग भी शामिल हैं। बीते 24 घंटे में 56 संक्रमितों ने कोरोना को मात दिया है। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि 24 घंटे में 57 मरीज स्वस्थ हुए हैं। इसके बाद भी एक्टिव मरीजों की संख्या में कोई खास कमी नहीं हुई है। राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 2,222 है।

पटना में 1015 नए केस, राज्य में 1659 कोरोना संक्रमित मिले

राज्य में कोरोना की तीसरी लहर बेकाबू होती जा रही है। बिहार में संक्रमण का बड़ा विस्फोट हुआ है। राज्य के अंदर बुधवार को कुल 1,659 नए मरीज मिले। राजधानी पटना में 1,015 मरीजों की पहचान हुई है जो अब तक का सबसे बड़ा कोरोना ब्लास्ट है। एक दिन में लगभग दोगुने मरीज बढ़े हैं जो बेहद ही चिंता का विषय हैं। एक दिन में लगभग दोगुने मरीज बढ़े है, जबकि मंगलवार को पटना में 565 मामले सामने आए थे। वहीं, बिहार में संक्रमित मरीजों की संख्या 893 थी।

मुख्यमंत्री का जनता दरबार अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

बिहार में कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने सभी कार्यक्रमों को स्थगित कर दिया है। मुख्यमंत्री का जनता दरबार कार्यक्रम अगली सूचना तक स्थगित कर दिया गया है। मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग की तरफ से दो अलग-अलग आदेश जारी किए गए हैं। इस आदेश के मुताबिक कोरोना संक्रमण को देखते हुए अगले आदेश तक के जनता दरबार कार्यक्रम स्थगित रहेगा। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री समाज सुधार अभियान पर भी नहीं निकलेंगे। पहले से जो कार्यक्रम तय किया गया था उसे स्थगित कर दिया गया है और अगली सूचना तक कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं होगा।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!