spot_img

आंध्र प्रदेश के कैबिनेट मंत्री गौतम रेड्डी का दिल का दौरा पड़ने से निधन

आंध्र प्रदेश सरकार में उद्योग एवं कॉमर्स, सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री मेकापति गौतम रेड्डी का आज सुबह सोमवार को दिल का दौरा पड़ने से हैदराबाद में निधन हो गया है।

Amrawati: आंध्र प्रदेश सरकार में उद्योग एवं कॉमर्स, सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री मेकापति गौतम रेड्डी का आज सुबह सोमवार को दिल का दौरा पड़ने से हैदराबाद में निधन हो गया है।

गौतम रेड्डी दुबई से दो दिन पहले स्वदेश लौटे थे। 50 वर्षीय रेड्डी पिछले हफ्ते ही अबू धाबी गए थे, जहां दुबई ऑटो एक्सपो में आंध्र प्रदेश सरकार की ओर से राज्य में निवेश को प्रोत्साहन के लिए अबू धाबी रोड शो इवेंट का आयोजन किया गया था। उन्होंने कई बिजनेसमैन और निवेशकों के साथ मुलाकात की थी। उन्होंने दावा किया था कि राज्य के लिए उन्होंने 5000 करोड़ से अधिक का निवेश हासिल किया है।

पारिवारिक सूत्रों के अनुसार वे दो बार कोरोना संक्रमित पाए गए और इलाज भी हो चुका था। आज सुबह घर पर बेहोश होने के बाद उन्हें जुबली हिल्स अपोलो अस्पताल ले जाया गया ।

2014 में पहली बार बने विधायक

गौतम रेड्डी आंध्र प्रदेश के नेल्लोर जिले के आत्मकुरु विधानसभा सीट से विधायक रहे। वे पूर्व सांसद मेकापति राजामोहन रेड्डी के बेटे थे। गौतम रेड्डी के पिता राजमोहन रेड्डी ने भी भारी बहुमत से नेल्लूर संसदीय सीट पर जीत हासिल की थी। गौतम रेड्डी सबसे पहले 2014 में आत्मकुरु से ही विधायक चुने गए थे। 2019 में वो फिर यहीं से निर्वाचित हुए और वाईएसआर कांग्रेस की पहली सरकार में मंत्री बने। गौतम रेड्डी मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी के करीबी माने जाने वाले सहयोगी हैं, जिन्होंने वर्तमान मुख्यमंत्री के साथ कांग्रेस छोड़ा था।

जगन मोहन रेड्डी और कई अन्य लोगों ने गौतम रेड्डी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी स्वयं कुछ देर पहले हैदराबाद पहुंचे और उनके परिवार के सदस्यों से मिलकर अपनी संवेदना व्यक्त की। उनके निधन पर मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि वह एक युवा होनहार नेता थे और वह उन्हें उनके शुरुआती दिनों से जानते थे।

अपोलो हॉस्पिटल ने एक बयान में जानकारी दी है कि मंत्री गौतम रेड्डी को सुबह 7:45 बजे अस्पताल में लाया गया। उस समय वह सांस नहीं ले रहे थे। उन्हें अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में तत्काल सीपीआर और कार्डियक लाइफ सपोर्ट दिया गया। आपातकालीन चिकित्सा टीम, कार्डियोलॉजिस्ट और क्रिटिकल केयर डॉक्टरों सहित विशेषज्ञों ने उनकी देखभाल की।’

पारिवारिक सूत्रों के अनुसार 50 वर्षीय गौतम नियमित रूप से व्यायाम किया करते थे और उनका अच्छा स्वास्थ्य भी था। इसके बावजूद उनके अचानक निधन से हर कोई सदमे में है।सोशल मीडिया पर उनके व्यायाम करते पोस्ट किए गए कुछ चित्र भी वायरल हो रहे है।

मंत्री गौतम रेड्डी की अंत्येष्टि बुधवार को नेल्लोर जिले के आत्मकुरु में की जाएगी। आज रात उनके पार्थिव शरीर को नेल्लोर ले जाया जाएगा। सूत्रों के अनुसार गौतम रेड्डी के पुत्र अर्जुन रेड्डी अमेरिका में शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं और वे कल देर रात तक नेल्लोर पहुंचेंगे।(Hs)

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!