spot_img

दुर्गा पूजा में विलेन बनी बारिश, चंद घंटों में पंडालों के पास जमा घुटनों तक पानी

Kolkata: मौसम विभाग की भविष्यवाणी के मुताबिक पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता समेत आसपास के क्षेत्रों में षष्ठी के दिन से ही बारिश की शुरुआत हो गई है। शनिवार शाम के समय महज दो से तीन घंटों तक हुई झमाझम बारिश के चलते कोलकाता के अधिकतर इलाके घुटनों तक पानी जमने की वजह से जलमग्न हो गए।

महानगर में बने विशालकाय पंडालों और बेहतरीन लाइट सज्जा के साथ दुर्गा प्रतिमाओं का दर्शन करने के लिए लाखों लोग सड़कों पर निकले थे, ऐसे में विलन की इस बारिश ने पूजा घूमने वालों के उत्साह में खलल डाला है। कोलकाता के बड़ा बाजार, एमजी रोड, सेंट्रल एवेन्यू , दमदम, कांकुरगाछी अंडरपास, वीआईपी रोड समेत अन्य इलाकों में पंडालों के पास घुटनों तक पानी जम गया।

बारिश के चलते ट्रैफिक व्यवस्था पूरी तरह से थम गई और जो लोग पूजा घूमने के लिए निकले थे वे हजारों की संख्या में यहां वहां सड़क किनारे बारिश से बचने की कोशिश में भागते दौड़ते नजर आए। मौसम विभाग ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि षष्ठी से नवमी के बीच कोलकाता समेत आसपास के क्षेत्रों में भारी बारिश होगी। उसी के मुताबिक बारिश की शुरुआत हो गई है। रविवार को मौसम विभाग ने मुर्शिदाबाद, उत्तर और दक्षिण 24 परगना, हावड़ा और हुगली के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। इन इलाकों में और अधिक बारिश होने वाली है। पिछले 24 घंटे के दौरान राजधानी कोलकाता में 32.1 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। इसकी वजह से तापमान में भी हल्की कमी दर्ज की गई है। रविवार को न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है जो सामान्य से एक डिग्री कम है जबकि अधिकतम तापमान 34.2 डिग्री सेल्सियस पर है जो सामान्य से एक डिग्री अधिक है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!