spot_img

चमोली जिले में भारी बारिश, गोशाला मलबे में दबी

चमोली जिले में शनिवार देर से रविवार सुबह तक हुई भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त है। बदरीनाथ हाइवे कई स्थानों पर बंद हो गया है। देवाल ब्लॉक के कोटीपार कोटेडा गांव में भूस्खलन के कारण एक गोशाला मलबे में दब गई है।

Gopeshwar: चमोली जिले में शनिवार देर से रविवार सुबह तक हुई भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त है। बदरीनाथ हाइवे कई स्थानों पर बंद हो गया है। देवाल ब्लॉक के कोटीपार कोटेडा गांव में भूस्खलन के कारण एक गोशाला मलबे में दब गई है। वहां कुछ मवेशियों के दबे होने की आशंका है। घाट क्षेत्र में काण्डई-खुनाणा मोटरमार्ग पर भी देररात एक मालवाहक वाहन कर्तीगाड़ के पास सडक के ऊपर आये मलबे में फंस गया। बदरीनाथ हाइवे को पागल नाले और गुलाब कोटी में खोल दिया गया है। हाइवे अभी हनुमानचट्टी में बंद है। बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग खोलने का कार्य जारी है।

मलबे में दबा वाहन

बारिश के दौरान बदरीनाथ हाइवे गुलाबकोटी, पागलनाला और हनुमानचट्टी में बंद हो गया था। कुछ जगह हाइवे खोल दिया गया है। हनुमानचट्टी में दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लगी हुई है। एनएचआई और डीसीएल की ओर से हाइवे खोले जाने का कार्य जारी है।

कोटीपार कोटेड़ा गांव के ही दिनेश राम ने बताया कि भूस्खलन से आये मलबे और पानी से खेतों को नुकसान हुआ है। आलू की फसल भी बर्बाद हो गई है। गांव में ही एक गोशाला क्षतिग्रस्त हो गई है। कुछ मवेशी मलबे में दबे हुए हैं। देवाल के ब्लॉक प्रमुख दर्शन दानू ने बताया कि राजस्व टीम गांव रवाना हो गई है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!