spot_img
spot_img

खुशी दुबे के घर की सीसीटीवी से हो रही निगरानी, घर पहुंचने के बाद से पुलिस बेचैन

जेल के अन्दर एवं बाहर के अपराधियों से पुलिस को इतना खौफ नहीं है, जितना खुशी दुबे से है। पुलिस को इतना भय हो चुका है कि जेल से बाहर आने के बाद से खुशी के घर की सीसीटीवी कैमरों से निगरानी कर रही है।

निधि राजदान ने NDTV छोड़ा

Kanpur: जेल के अन्दर एवं बाहर के अपराधियों से पुलिस को इतना खौफ नहीं है, जितना खुशी दुबे से है। पुलिस को इतना भय हो चुका है कि जेल से बाहर आने के बाद से खुशी के घर की सीसीटीवी कैमरों से निगरानी कर रही है। खुशी के घर आने-जाने वालों पर नजर रखी जा रही है। वह 30 महीने बाद सर्वोच्च न्यायालय से जमानत मिलने के बाद घर पहुंची है और अब पुलिस उस पर नजर रख रही है।

बिकरू कांड की आरोपित खुशी दुबे का पनकी रतनपुर कॉलोनी में घर है। खुशी को ढाई वर्ष के बाद चार जनवरी को सर्वोच्च न्यायालय से जमानत मिली और वह 21 जनवरी को जेल से रिहा हुई। खुशी के जमानत पर रिहा होने के बाद पुलिस में बेचैन दिखाई दे रही है। खुशी के घर पहुंचते ही आनन-फानन में उसके घर के दोनों तरफ पनकी थाने की पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे लगा दिए हैं। खुशी के घर आने-जाने वाले और परिवार पर पुलिस कड़ी निगरानी कर है। इसके साथ ही एक-एक व्यक्त का ब्योरा जुटा रही है। 

खुशी की मां गायत्री देवी के मुताबिक क्षेत्रीय पुलिस का पहरा है। सादी वर्दी में भी खुफिया विभाग के लोग और पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। इससे खुशी दुबे के घर आने-जाने वालों का ब्योरा जुटाया जा सके। इसके बाद खुशी का मूवमेंट क्या है पुलिस उसे भी देख रही है। घर के बाहर पुलिस की निगरानी को लेकर खुशी दुबे के परिवार और उनके अधिवक्ता शिवाकांत दीक्षित ने आपत्ति जताई है। इस संबंध में परिवार जल्द ही पुलिस अधिकारियों से मिलेंगे।

खुशी के पक्ष में सोशल मीडिया में जनसमर्थन

बिकरू कांड में आरोपित बनाकर जेल भेजी गई खुशी दुबे भले ही पुलिस की निगाह में आरोपी है, लेकिन आम जनता खुशी को बेगुनाह बता रही है। घर के बाहर सीसीटीवी लगने का वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर खुशी के पक्ष में हजारों ट्वीट और उस पर लोगों की प्रतिक्रिया आ रही है। सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक लोग खुशी को बेगुनाह बता रहे और उसके समर्थन में जुटे हैं।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!