spot_img
spot_img

सौ करोड़ से ज्यादा की धोखाधड़ी मामला: दो बिल्डर गिरफ्तार, दुबई भागने के थे फिराक में

नंदग्राम पुलिस ने रविवार को निवेशकों के साथ सौ करोड़ से ज्यादा की धोखाधड़ी के मामले में दो और बिल्डर प्रतीक जैन और अक्षय जैन को गिरफ्तार कर लिया।

Ghaziabad: नंदग्राम पुलिस ने रविवार को निवेशकों के साथ सौ करोड़ से ज्यादा की धोखाधड़ी के मामले में दो और बिल्डर प्रतीक जैन और अक्षय जैन को गिरफ्तार कर लिया। दोनों ही इन कम्पनियों में निदेशक हैं। उन पर आरोप है कि वह फर्जी तरीके से कंपनियां एवं डायरेक्टर बनाकर दस्तावेज तैयार करते थे और लोगों को फ्लैट एवं प्लाट का लालच देकर निवेश कराते थे। ये दोनों ही रामप्रस्थ थाना लिंक रोड के निवासी हैं।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नगर (प्रथम) निपुण अग्रवाल ने बताया कि आरोपितों के कब्जे से कूटरचित दस्तावेज बरामद किए हैं। इस मामले में पहले लिंक रोड थाना क्षेत्र स्थित रामप्रस्थ निवासी नमन जैन, उसके पिता राजकुमार जैन, बहन अनुशा जैन, मां इन्दू जैन तथा पार्टनर ऋषभ जैन को गिरफ़्तार किया जा चुका है। आइडिया बिल्डर प्राइवेट लिमिटेड मंजू जे हॉम्स, रेड एप्पल एवं इसी तरह की दर्जनों फर्जी कंपनी बनाकर फर्जी दस्तावेजों के आधार पर लोगों से फ्लैट, प्लॉट एवं ऊंची ब्याज दर देने के नाम पर निवेश कराते थे। सभी आरोपित लम्बे समय से फरार चल रहे थे। उनको आज गाजियाबाद नंदग्राम पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

उन्होंने बताया कि आरोपी अक्षय जैन ने देवेन वर्मा के नाम से फर्जी कोड व आधार कार्ड पैन कार्ड व पासपोर्ट तथा प्रतीक जैन ने अपनी आईडी राहुल गर्ग कृष्णा नगर पूर्वी दिल्ली के नाम से बनवाकर फर्जी रूप से यूनाइटेड अरब अमीरात की एक सोहल अल दफा सॉफ्टवेयर ट्रेडिंग कंपनी में एंपलॉयर का फेडरल अथॉरिटी फॉर आईडेंटिटी एंड सिटीजनशिप रेजिडेंट आइडेंटी कार्ड बना कर हमेशा के लिए दुबई जाने की फिराक में थे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!