spot_img

फुटबॉल मैच…, हिंसा…, भगदड़…, चार दशक, 838 लोगों की मौत

New Delhi: इंडोनेशिया के ईस्ट जावा प्रांत में शनिवार रात फुटबॉल मैच के दौरान प्रशंसकों के बीच हिंसा के बाद मची भगदड़ में 129 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। बड़ी संख्या में लोग घायल भी हुए हैं। दुनिया भर में पिछले चार दशक में फुटबॉल मैच के दौरान हुई हिंसा, भगदड़ और अग्निकांड में इंडोनेशिया में मारे गए इन लोगों समेत करीब 838 लोगों की जान जा चुकी है।

फुटबॉल मैच का शानदार इतिहास 1982 में रक्तरंजित त्रासदी के तौर पर याद किया जाता है। वो महीना भी अक्टूबर का था। मॉस्को के लुज्निकी स्टेडियम में यूईएफए कप टाई छोड़ने पर मचे बवाल में आधिकारिक तौर पर 66 लोगों की मौत की पुष्टि की गई थी। इसके बाद ब्रिटेनमें मई 1985 में लिंकन सिटी के खिलाफ तीसरे डिवीजन मैच के दौरान ब्रैडफोर्ड के वैली परेड स्टेडियम में स्टैंड में आग लगने से कम से कम 56 लोग मारे गए थे। इसी साल इसी महीने बेल्जियम में ब्रुसेल्स के हेसेल स्टेडियम में जुवेंटस और लिवरपूल के बीच यूरोपीय कप फाइनल से पहले हिंसा में 29 लोगों की मौत हो गई थी। भारत के पड़ोसी नेपाल में 1988 में राष्ट्रीय फुटबॉल स्टेडियम में ओलावृष्टि में बंद निकास की ओर भगदड़ मचने से 90 से अधिक प्रशंसकों की मौत हो गई थी।

ब्रिटेन में अप्रैल 1989 में लिवरपूल और नॉटिंघम फॉरेस्ट के बीच एफए कप सेमीफाइनल से पहले शेफील्ड के हिल्सबोरो स्टेडियम में 99 लिवरपूल समर्थकों को कुचल दिया गया था। मई 1992 में फ्रांस के फुरियानी स्टेडियम में स्टैंड ढहने 18 फुटबॉल प्रेमी मारे गए थे। चार साल बाद अक्टूबर 1996 ग्वाटेमाला सिटी में ग्वाटेमाला और कोस्टा रिका के बीच विश्व कप क्वालीफाइंग मैच में सीटों और सीढ़ियों के गिरने से 82 प्रशंसकों की मौत हो गई थी। दक्षिण अफ्रीका में अप्रैल 2001 में शीर्ष लीग मैच के बीच में जोहान्सबर्ग के विशाल एलिस पार्क स्टेडियम में जबरन घुसने की कोशिश में कम से कम 43 लोगों की कुचलकर मौत हो गई। घाना में मई 2001 को मुख्य फुटबॉल स्टेडियम में मची भगदड़ में करीब 126 लोग मारे गए थे। आइवरी कोस्ट में मार्च 2009 में मलावी के खिलाफ विश्व कप फुटबॉल क्वालीफाइंग मैच से पहले आबिदजान के फेलिक्स हौफौएट-बोइगनी स्टेडियम में भगदड़ के दौरान कम से कम 19 लोग मारे गए थे।

मिस्र के पोर्ट सईद शहर में फरवरी 2012 में अल-मस्री और अल-अहली के बीच मैच के अंत में प्रशंसकों ने हंगामा किया। इस हंगामें में कम से कम 73 लोग मारे गए। कैमरून में जनवरी 2022 को कोमोरोस के खिलाफ मेजबान देश अफ्रीका कप ऑफ नेशंस के अंतिम-16 मैच से पहले कैमरून के याउंड ओलेम्बे स्टेडियम में मची भगदड़ में कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई। (HS)

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!