spot_img
spot_img

इस बार समय पर होंगे JEE Main और Advanced के Exam, तीन साल से गड़बड़ा रहा IIT का सेशन

निधि राजदान ने NDTV छोड़ा

Kota: देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम (JEE Main 2023) इस बार समय पर आयोजित होगी। साथ ही सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम एडवांस्ड (JEE Advanced 2023) भी समय पर कराया जाएगा। बीते तीन सालों से कोरोना के चलते यह परीक्षाएं तय समय से काफी देरी से हो रही थी। इनके चलते इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (NIT) दोनों के ही शैक्षणिक सत्र को प्रभावित कर रही थी, लेकिन इस बार नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने जेईई मैन 2023 और आईआईटी गुवाहाटी ने जेईई एडवांस्ड 2023 के एग्जाम कैलेंडर जारी किए हैं।

जनवरी में होगा शेड्यूल जारी

जनवरी में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने जेईई मेन की पहले सेशन की परीक्षाओं का शेड्यूल जारी कर दिया है। ये परीक्षाएं 24 से 31 जनवरी तक चलेंगी। जून या इससे पहले परीक्षाओं के परिणाम आ जाएंगे। इसके बाद ज्वाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी की काउंसलिंग शुरू हो जाएगी। ऐसे में तय समय अगस्त से ही आईआईटी और एनआईटी के शैक्षणिक सत्र शुरू हो जाएंगे। अप्रैल में अटेंप्ट की परीक्षा का आयोजन 6 से 12 अप्रैल तक किया जाएगा। इसमें से चयनित विद्यार्थी एडवांस्ड की परीक्षा देंगे।

जेईई एडवांस्ड 2023 परीक्षा के लिए 30 अप्रैल से रजिस्ट्रेशन शुरू

जेईई एडवांस्ड 2023 परीक्षा के लिए 30 अप्रैल सुबह 10 बजे से रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएंगे। यह 4 मई 2023 तक चलेंगे। लेट फीस के साथ 5 मई 2023 तक विद्यार्थी रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे। एडमिट कार्ड 29 मई से 4 जून के मध्य डाउनलोड कर सकेंगे। दिव्यांग विद्यार्थी परीक्षा में उत्तर लिखने में असमर्थ हैं, वे स्क्राइब के लिए 3 जून तक आवेदन कर सकेंगे। जॉइंट एंट्रेंस एक्जाम एडवांस्ड 4 जून को आयोजित किया जाएगा। इसकी रिकॉर्डेड रिस्पांस सीट यानी विद्यार्थियों की उत्तर पुस्तिकाएं 9 जून को शाम 5 बजे जारी कर दी जाएगी। प्रोविजनल आंसर की 11 जून को सुबह 10 बजे जारी होगी। स्टूडेंट्स 12 जून 2023 शाम 5 बजे तक प्रोविजनल आंसर की पर आपत्ति जता सकेंगे। फाइनल आंसर की और रिजल्ट 18 जून 2023 को जारी होगा।

साल 2022 में 1 से 10 नवंबर के बीच पढ़ाई शुरू हो सकी थी, ये निर्धारित समय से 3 महीने देरी से थी। इसी तरह साल 2021 में पढ़ाई दिसंबर में शुरू हुई थी। इससे पहले 2020 में भी पढ़ाई नवंबर-दिसंबर में शुरू हो सकी थी। तब से अभी तक कोरोना के चलते लगातार सेशन देरी से शुरू हो रहे हैं। इस साल शिक्षा मंत्रालय ने परीक्षा और पढ़ाई समय पर शुरू करने की योजना बनाई है। इसके तहत परीक्षाएं समय पर शुरू करने के लिए समय-सारिणी जारी कर दी गई है। अगर इस शेड्यूल में बदलाव नहीं होता है, तो इस बार पढ़ाई अगस्त में शुरू हो जाएगी। शैक्षणिक सत्र समय से शुरू होने का फायदा स्टूडेंट्स को मिलेगा, क्योंकि सेशन देरी से शुरू होने के कारण परीक्षाओं की घोषणा जल्द कर दी जाती थी, जिससे शिक्षकों पर जल्दी कोर्स पूरा करने का दबाव रहता था। इसके लिए अवकाश के दिन भी क्लासेज संचालित की जाती थी और सेमेस्टर के सिलेबस को पूरा करवाया जाता था। अब समय से पढ़ाई शुरू होने से विद्यार्थियों के पास अपनी सेमेस्टर एग्जाम की तैयारी के लिए पर्याप्त समय रहेगा। साथ ही सेमेस्टर एग्जाम भी वक्त हो सकेंगे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!