spot_img

AIMIM को लेकर Maharashtra में राजनीति गरमाई

ऑल इंडिया मजलिस -ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (AIMIM) पार्टी के महाविकास आघाड़ी सरकार में शामिल होने के प्रस्ताव के बाद महाराष्ट्र की राजनीति गरमा गई है।

Mumbai: ऑल इंडिया मजलिस -ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (AIMIM) पार्टी के महाविकास आघाड़ी सरकार में शामिल होने के प्रस्ताव के बाद महाराष्ट्र की राजनीति गरमा गई है। इस प्रस्ताव को जोरदार विरोध शिवसेना ने किया है। कांग्रेस तथा राष्ट्रवादी कांग्रेस की ओर से अभी तक इस संदर्भ में प्रतिक्रिया नहीं मिली है। पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि भाजपा को पराजित करने के लिए सभी दल इकठ्ठा हो रहे हैं, लेकिन भाजपा को कोई पराजित नहीं कर सकता है।

एएमआईएम के सांसद इम्तियाज जलील ने स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे से कहा था कि उनकी पार्टी महाविकास आघाड़ी सरकार में शामिल होने के लिए तैयार है। इस संबंध में अगर सरकार में शामिल नेता उनसे चर्चा करना चाहें तो वे चर्चा के लिए तैयार हैं। राजेश टोपे इम्तियाज जलील के घर उनकी मां का निधन पर सांत्वना देने गए थे। इम्तियाज जलील ने कहा कि उनकी पार्टी को भाजपा की बी टीम होने का आरोप लगाया जा रहा है, इसी वजह से उन्होंने महाविकास आघाड़ी में शामिल होने की बात की है।

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को हराने के लिए सभी पक्ष साथ आ रहे हैं, लेकिन भाजपा को कोई पराजित नहीं कर सकता है। देश की जनता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ है। इसलिए भाजपा को किसी अन्य सहारे की जरूरत ही नहीं है। देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि चर्चा है एआईएमआईएम महाविकास आघाड़ी सरकार में शामिल होने जा रही है।

शिवसेना प्रवक्ता तथा राज्यसभा सदस्य संजय राऊत ने कहा कि औरंगजेब की कब्र के सामने माथा टेकने वालों से महाविकास आघाड़ी किसी भी तरह का गठबंधन नहीं करेगी। महाराष्ट्र हमेशा छत्रपति शिवाजी महाराज ,छत्रपति संभाजी राजे महाराज के सामने नतमस्तक होने वाला है। इसलिए एआईएमआईएम के साथ गठंबधन का सवाल ही नहीं उठता है। यह भाजपा की बी टीम है। यह पूरे देश ने देखा है। वह भाजपा की बी टीम ही बनी रहे। हमारी उन्हें शुभकामना है। (HS)

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!