spot_img
spot_img

Jharkhand की अभिनेत्री रिया ने गरीबी के बाद देखा था स्टारडम, लव मैरिज करने वाला पति करता था मारपीट

बंगाल के हावड़ा जिले में हाइवे पर झारखंड की जिस चर्चित अभिनेत्री और यू-ट्यूबर रिया कुमारी उर्फ ईशा आलिया की गोली मारकर हत्या की गई, उसने एक निम्न आय वर्ग वाले परिवार से निकलकर झारखंड की रिजनल एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में खास पहचान बनाई थी।

निधि राजदान ने NDTV छोड़ा

Ranchi: बंगाल के हावड़ा जिले में हाइवे पर झारखंड की जिस चर्चित अभिनेत्री और यू-ट्यूबर रिया कुमारी उर्फ ईशा आलिया की गोली मारकर हत्या की गई, उसने एक निम्न आय वर्ग वाले परिवार से निकलकर झारखंड की रिजनल एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में खास पहचान बनाई थी। उसके पति प्रकाश कुमार उर्फ प्रकाश अलबेला की पहचान भी झारखंड में सिंगर और डायरेक्टर के तौर पर रही है, लेकिन उसकी तुलना में ईशा कहीं ज्यादा चर्चित थी। यू-ट्यूब पर भी ईशा के कई अलबम हिट रहे थे। बुधवार को ईशा की हत्या को लेकर उसके पति ने हावड़ा पुलिस को जो स्टोरी बताई थी, वह 24 घंटे बाद ही पलट गई है। पुलिस ने ईशा की हत्या में प्रकाश को ही गिरफ्तार कर लिया है। 

ईशा के मायके वालों ने पुलिस में जो लिखित कंप्लेन दर्ज कराई है, उसमें बताया गया है कि दोनों ने कुछ साल पहले लव मैरिज की थी लेकिन कुछ दिनों बाद ही प्रकाश और उसके घर वाले उसे दहेज के लिए बुरी तरह प्रताड़ित करने लगे थे। प्रकाश ने उसके साथ कई बार मारपीट की थी और यह मामला पुलिस तक भी पहुंचा था। दरअसल प्रकाश पहले से शादीशुदा था। एक आर्केस्ट्रा में साथ काम करने के दौरान प्रकाश और ईशा के बीच अंतरंग रिश्ते कायम हो हो गए थे।

प्रकाश ने उससे शादी का वादा किया था, लेकिन फिजिकल रिलेशंस बनाने के बाद वह इससे मुकर गया था। तब काफी बवाल हुआ था। दबाव में उसने ईशा से शादी कर ली थी। शादी के बाद भी दोनों के बीच एक-दो बार विवाद हुआ। आरोप है कि प्रकाश ने एक बार पिटाई कर उसका सिर फोड़ दिया था। बाद में समझौता हुआ था। इसके बाद से ईशा और प्रकाश रांची के मोरहाबादी में टैगोर हिल एरिया में किराए के फ्लैट में रहते थे। दोनों की ढाई साल की एक पुत्री भी है।

ईशा और प्रकाश अलबेला दोनों मूल तौर पर हजारीबाग जिले के रहनेवाले हैं। ईशा का मूल नाम रिया कुमारी है। उसे घर पर रीता और बबिता के नाम से भी जाना जाता था। वह हजारीबाग के चौपारण थाना अंतर्गत महुदी गांव निवासी धनोखी राणा की पांच संतानों में से एक थी। धनोखी राणा फर्नीचर मिस्त्री का काम करते थे, लेकिन पैरालिसिस अटैक की वजह से वह अब काम करने में अक्षम हैं।

ईशा उर्फ रिया ने क्षेत्रीय भाषाओं खोरठा, नागपुरी के अलावा बांग्ला के दर्जनों म्यूजिक अलबम और फिल्मों मे भी काम किया था। उसने इसी साल नागपुरी भाषा की फिल्म ‘पिक्च र अभी बाकी है’ में लीड एक्ट्रेस का रोल किया था। यू-ट्यूब पर म्यूजिक अलबम से भी उसे प्रतिमाह अच्छी आय होती थी। इसके अलावा उसने रांची के मोरहाबादी में ब्यूटी पार्लर भी खोला था। बताया गया है कि उसके पति प्रकाश अलबेला की नजर अपनी पत्नी की कमाई पर थी। वह जबरन उसे पैसे छीन लेता था और इस वजह से दोनों के बीच विवाद भी होता था।

बुधवार को रिया अपने पति के साथ कास्ट्यूम्स की खरीदारी के लिए रांची से कोलकाता जा रही थी। साथ में उसकी तीन साल की बेटी भी थी। प्रकाश कुमार ने पुलिस को उसकी हत्या को लेकर जो कहानी बताई है, उसके मुताबिक रांची-कोलकाता हाईवे एनएच-16 पर महिषरेखा पुल के पास उसे लघुशंका के लिए गाड़ी रोकी तो तीन बदमाश वहां हथियार लहराते हुए पहुंच गए।

उन्होंने उनसे लूटपाट की कोशिश की। दोनों ने जब इसका इसका विरोध किया तो एक बदमाश ने ईशा उर्फ रिया पर गोली चला दी। वह वहीं गिर पड़ी। वह शोर मचाने लगे तो बदमाश भाग गए। इसके बाद उन्होंने थोड़ा आगे जाकर स्थानीय लोगों से मदद मांगी। स्थानीय लोगों ने ही पुलिस को सूचना दी। रिया को अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन इसके पहले ही उसकी मौत हो गई थी। पुलिस प्रकाश की इस कहानी को फाउल प्ले मान रही है। रिया उर्फ ईशा के घरवालों की लिखित कंप्लेन के बाद उसे हत्या का आरोपी माना जा रहा है। गुरुवार को उसे जेल भेज दिया गया।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!