spot_img

त्रिकूट रोपवे हादसे में पर्यटकों की जान बचाने वाले पन्नालाल समेत सभी देवदूत से रात 8 बजे PM मोदी करेंगे बात!: MP निशिकांत दुबे

देवघर के त्रिकूट पर्वत पर बीते रविवार हुए रोपवे हादसे के बाद देवदूत बनकर महज रस्सी के सहारे 10 लोगों की जिंदगी बचाने वाले पन्नालाल से देश के प्रधानमंत्री फोन पर बात करेंगे।

Deoghar Airport का रन-वे बेहतर: DGCA

Dumka: देवघर के त्रिकूट पर्वत पर बीते रविवार हुए रोपवे हादसे के बाद देवदूत बनकर महज रस्सी के सहारे 10 लोगों की जिंदगी बचाने वाले पन्नालाल से देश के प्रधानमंत्री फोन पर बात करेंगे।

इस बात की जानकारी देते हुए गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने कहा है कि, जहां तक मुझे जानकारी है प्रधानमंत्री खुद पन्नालाल समेत रेस्कयू ऑपरेशन मे लगे एनडीआरएफ सेना के जवान, आईटीबीपी समेत पुलिस के जवानों से बात कर उन्हें धन्यवाद देंगें। इस बावत जानकारी देते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा है कि, जहां तक उन्हें जानकारी है प्रधानमंत्री रात 8 बजे तमाम लोगों से वीडियो कॉंफ्रेंसिंग के जरिए बात कर सकते हैं। 

साल 2019 में ही रोपवे संचालित करने वाली कंपनी से खत्म हो गया था करार, हादसे के लिए राज्य सरकार जिम्मेदार- निशिकांत

एक केस के सिलसिले में दुमका कोर्ट में पेश होने आए डॉ निशिकांत दुबे ने देवघर के त्रिकूट रोपवे हादसे के लिए सीधे तौर पर राज्य सरकार को जिम्मेदार बताया है। सांसद ने कहा है कि, जब साल 2019 में ही रोपवे संचालित करने वाली कंपनी के साथ राज्य सरकार का करार खत्म हो चुका है तो, इस हादसे के लिए कंपनी को जिम्मेदार ठहराना सही नहीं है। झारखंड सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए सांसद डॉ दुबे ने कहा कि, करार खत्म होने के बाद रोपवे के रख-रखाव और संचालन की जिम्मेदारी राज्य सरकार की थी लिहाजा, इस मामले में घोर लापरवाही बरती गई है।

अंतिम सांस तक लड़ूंगा लड़ाई- डॉ निशिकांत 

सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने कहा कि रोपवे हादसे के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई और उन्हें सजा दिलाने तक चैन से नहीं बैठूंगा। अंतिम सांस तक लड़ाई लडूंगा। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को अब भी भ्रम है कि, रेस्कयू ऑपरेशन को पीएम और गृहमंत्री की देखरेख में अंजाम नहीं दिया गया है उन सभी लोगों का भ्रम शाम 8 बजे उस वक्त टूट जाएगा। जब खुद प्रधानमंत्री बचावकार्य में प्रत्यक्ष य़ा अप्रत्यक्ष रुप से लगे तमाम लोगों से वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए बात कर लेगें।

रेसक्यू के दौरान हुई महिला की मौत का अफसोस, हो सकता था बड़ा हादसा

मंगलवार को रेसक्यू ऑपरेशन के दौरान रस्सी टूट जाने की वजह से हई महिला की मौत पर आफसोस जाहिर करते हुए डॉ निशिकांत दुबे ने कहा है कि, जिस वक्त हादसा पेश आया उस वक्त हालात बेहद गंभीर हो चुके थे। हेलिकॉप्टर से लटकी महिला की रस्सी ट्राली में फंस गई थी और काफी देर तक प्रयास करने के बाद भी रस्सी नहीं निकाली जा सकी, इस बीच हेलिकॉप्टर क्रैश होने की संभावना बढ़ गई थी।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!