spot_img
spot_img

चरमपंथी मानसिकता से है देश को खतरा, चुप क्यों हैं धर्मनिरपेक्षता का उपदेश देने वाले विरोधी दल: गिरिराज सिंह

गोरखनाथ मंदिर (Gorakhnath Mandir) पर हुए हमले पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि देश को चरमपंथी मानसिकता से खतरा है और हर मौके पर धर्मनिरपेक्षता का राग अलापने वाले इस हमले पर चुप क्यों हैं?

New Delhi: गोरखनाथ मंदिर (Gorakhnath Mandir) पर हुए हमले पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि देश को चरमपंथी मानसिकता से खतरा है और हर मौके पर धर्मनिरपेक्षता का राग अलापने वाले इस हमले पर चुप क्यों हैं?

संसद भवन परिसर में मीडिया से बात करते हुए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि गोरखनाथ मंदिर पर हुए हमले के पीछे जो चरमपंथी मानसिकता काम कर रही है, उसी की वजह से देश खतरे का सामना कर रहा है। उन्होंने कहा कि बढ़ती मुस्लिम आबादी नहीं बल्कि यह चरमपंथी मानसिकता देश के लिए बड़ा खतरा है जो कभी देश में शरिया कानून लागू करने की मांग करती है तो कभी हिजाब को लेकर विवाद खड़ा करने का प्रयास करती है तो कभी नागरिकता कानून का विरोध करती है। उन्होंने कहा कि इसी चरमपंथी मानिसकता के कारण ही शिक्षित व्यक्ति भी आतंकवादी की तरह बर्ताव करने लगता है।

सोमवार को ही लोकसभा में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह की टोपी पर हंगामा भी देखने को मिला। भाजपा के चुनाव चिन्ह वाली टोपी पहन कर आने को नियम विरुद्ध बताते हुए बसपा सांसद दानिश अली ने सदन में केंद्रीय मंत्री को घेरना शुरू कर दिया। इसे लेकर सदन में हंगामे की स्थिति पैदा हो गई, लेकिन सभापति के आसन पर बैठे ए राजा ने यह कहकर मामले को समाप्त कर दिया कि केंद्रीय मंत्री ने स्वयं ही पार्टी का चुनाव चिन्ह हटा लिया है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!