spot_img

PM मोदी की नई टीम: डॉक्टर, इंजीनियर और रिटायर्ड IAS अधिकारियों समेत 4 पूर्व CM भी शामिल

मोदी मंत्रिमंडल में 24 नए चेहरों के नाम फाइनल हो गए हैं। इनके अलावा खाली 28 पद को देखते हुए 4 और चेहरों को शपथ दिलाई जा सकती है

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 7 साल का सबसे बड़ा कैबिनेट विस्तार करने जा रहे हैं। इस नई कैबिनेट को अब तक की सबसे युवा टीम मोदी कहा जा रहा है। शाम 6 बजे 43 मंत्रियों को शपथ दिलाई जाएगी, इनमें 24 नए चेहरे फाइनल हो चुके हैं। कैबिनेट विस्तार से पहले ही 11 मौजूदा मंत्रियों का इस्तीफा हो गया है और प्रमोट होने वाले 7 मंत्रियों के नाम भी तय हो चुके हैं।

नई कैबिनेट के लिए 24 नाम फाइनल

मोदी मंत्रिमंडल में 24 नए चेहरों के नाम फाइनल हो गए हैं। इनके अलावा खाली 28 पद को देखते हुए 4 और चेहरों को शपथ दिलाई जा सकती है। यानी कुल 28 मंत्री शपथ ले सकते हैं। कुछ के प्रमोशन होंगे और कुछ के डिमोशन। कुल 43 मंत्री शपथ लेंगे।

क्या खास है इस नई टीम में…

1. अनुभव

  • 4 पूर्व मुख्यमंत्री हैं। 18 पूर्व राज्य मंत्री हैं।
  • 39 पूर्व विधायक हैं। इनमें 23 ऐसे सांसद हैं, जो 3 से ज्यादा बार लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं।
  • 46 मंत्रियों को केंद्र सरकार के साथ काम करने का अनुभव है।

2. एजुकेशन और उम्र

  • 13 वकील, 6 डॉक्टर और 5 इंजीनियर हैं। इनके अलावा 7 पूर्व सिविल सर्वेंट हैं। यानी 43 शपथ लेने वालों में 31 हाईली एजुकेटेड हैं।
  • इस नई टीम की एवरेज उम्र 58 साल है। इमें भी 14 मंत्री ऐसे होंगे, जिनकी उम्र 50 साल से भी कम है।
  • नई टीम में 11 महिलाएं होंगी और इनमें से भी दो को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया जाएगा।

3. जातीय समीकरण

  • 5 मंत्री अल्पसंख्यक समुदाय से होंगे, इनमें एक मुस्लिम, 1 सिख, 1 क्रिश्चियन और 2 बौद्ध होंगे।
  • 27 मंत्री OBC समुदाय से रहेंगे। इनमें से 5 को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया जाएगा।
  • 8 ST शपथ लेंगे, इनमें 3 को कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिलेगा। ये अरुणाचल, झारखंड, छत्तीसगढ़, प. बंगला, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा और असम से होंगे। ये गोंड, संथाल, मिजी, मुंडा, टी ट्राइब, कोकाना, सोनोवाल जातियों से हैं।
  • 12 SC शपथ लेंगे, इनमें से 2 को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया जाएगा। ये बिहार, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, प. बंगाल, कर्नाटक, राजस्थान और तमिलनाडु से होंगे। इनमें रामदासिया, खटीक, पासी, कोरी, मादिगा, महार. अरुनदथियार, मेघवाल, धंगार जातियों से होंगे।

11 मंत्रियों का इस्तीफा

नए मंत्रियों के शपथग्रहण से पहले मौजूदा मंत्रियों के इस्तीफे का दौर शुरू हो गया है। इनमें केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौधरी, महिला बाल विकास मंत्री देबोश्री चौधरी, उर्वरक और रसायन मंत्री सदानंद गौड़ा, श्रम राज्य मंत्री संतोष गंगवार, शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे, बाबुल सुप्रियो, प्रताप सारंगी और रतन लाल कटारिया से भी इस्तीफा लिया जा चुका है। केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री थावरचंद गहलोत ने मंगलवार को ही इस्तीफा दे दिया था। अब तक कुल 11 मंत्रियों का इस्तीफा हो चुका है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!