spot_img
spot_img

रेलवे में Job चाहने वालों ने राबड़ी देवी, उनकी बेटी को Gift में दी जमीन: CBI जांच

New Delhi: सीबीआई (CBI) की जांच से पता चला है कि पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की पत्नी राबड़ी देवी (Rabri Devi) और बेटी हेमा यादव (Hema Yadav) को नौकरी के लिए जमीन का तोहफा नौकरी चाहने वालों द्वारा दी गई थी, जिन्हें बाद में रेलवे में नियुक्त किया गया था। सीबीआई ने रेलवे कर्मचारी हृदयानंद चौधरी और लालू प्रसाद के तत्कालीन ओएसडी भोला यादव (Bhola Yadav) को बुधवार को गिरफ्तार किया है।

भोला 2004 से 2009 के बीच लालू के ओएसडी थे। सीबीआई के एक सूत्र ने कहा कि चौधरी ने कथित तौर पर लालू प्रसाद की बेटी हेमा यादव को 61 लाख रुपये की जमीन उपहार में दी थी। पूछताछ के दौरान वह टालमटोल करते रहे और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

सीबीआई के दस्तावेजों में कहा गया है कि, “पटना के महुआबाग निवासी बृज नंदन राय ने 2008 की बिक्री विलेख संख्या 6006 के तहत पटना स्थित 3375 वर्ग फुट जमीन का एक पार्सल 4,21,000 रुपये के बिक्री मूल्य पर आरोपी हृदयानंद चौधरी को हस्तांतरित किया। चौधरी को वर्ष 2005 में पूर्व मध्य रेलवे, हाजीपुर में स्थानापन्न के रूप में नियुक्त किया गया था। पूछताछ से पता चला है कि बाद में चौधरी ने उपहार विलेख के माध्यम से लालू यादव की बेटी हेमा यादव को जमीन का पार्सल हस्तांतरित किया। पूछताछ से पता चला है कि चौधरी लालू प्रसाद यादव के रिश्तेदार नहीं हैं। उपहार के समय प्रचलित सरल रेट के अनुसार उक्त भूमि का मूल्य 62,10,000 रुपये था।”

सीबीआई को यह भी पता चला है कि जमीन का एक और पार्सल राबड़ी देवी को उपहार में दिया गया था। कि संजय राय, धर्मेंद्र राय और रवींद्र राय सभी महुआबाग पटना के निवासी एक बिक्री विलेख के माध्यम से 3,75,000 रुपये के बिक्री मूल्य पर पटना स्थित राबड़ी देवी को एक पार्सल स्थानांतरित कर दिया।

सीबीआई ने दस्तावेजों में उल्लेख किया, “जांच से पता चला है कि संजय राय, धर्मेंद्र राय विक्रेता और रवींद्र राय के पुत्र विकास कुमार को वर्ष 2008 में मध्य रेलवे मुंबई में ग्रुप डी पद पर विकल्प के रूप में नियुक्त किया गया था।”

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!