spot_img
spot_img

Bihar के स्कूलों में समय से पहले होगी गर्मी की छुट्टी!, आपदा प्रबंधन विभाग ने जारी किया अलर्ट

जेठ की दोपहरी में पांव जलने की बात अब पुरानी हो गई है। चैत महीने में ही आसमान आग उगल रहा है। भीषण गर्मी पड़ रही है।

Patna: जेठ की दोपहरी में पांव जलने की बात अब पुरानी हो गई है। चैत महीने में ही आसमान आग उगल रहा है। भीषण गर्मी पड़ रही है। मई-जून की तपिश का अहसास मार्च में ही हो रहा है। मौसम की तल्खी को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग ने अलर्ट जारी किया है। शिक्षा और स्वास्थ्य विभाग को विशेष सतर्कता बरतने की सलाह दी गई है।

अस्पतालों को पूरी तरह अलर्ट मोड में रहने का निर्देश दिया गया है। पेयजल संकट से निपटने की दिशा में कार्य करने को भी कहा गया है। आपदा प्रबंधन की ओर से स्वास्थ्य एवं शिक्षा के अलावा पशुपालन, पीएचईडी, ग्रामीण विकास आदि विभागों को भी अलर्ट रहने की सलाह दी गई है।

आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने पत्र जारी कर कहा है कि गर्मी का मौसम शुरू हो गया है। बिहार में इस दौरान भीषण गर्मी पड़ती है, लू भी चलती है। इसका असर जनजीवन पर पड़ता है। खासकर बच्चों, गर्भवती व धात्री महिलाओं के साथ ही दिहाड़ी मजदूरों को इसमें अधिक परेशानी होती है। पेयजल का संकट हो जाता है। इसलिए लोगों को लू की पूर्व चेतावनी दें। अग्निशमन निदेशालय को अगलगी की घटनाओं को देखते हुए जरूरी इंतजाम करने को कहा गया है। सचिव ने सभी डीएम को जिलास्तर पर जागरूकता कार्यक्रम के आयोजन को भी कहा है।

हीट वेब एक्शन प्लान के अनुसार लू से बचाव का निर्देश जारी करने को कहा गया है। कोरोना संक्रमण को भी ध्यान में रखने की सलाह दी गई है। नगर विकास विभाग को सार्वजनिक प्याऊ की व्यवस्था करने और आश्रय स्थलों के लिए आवश्यक दवाओं की उपलब्धता का निर्देश दिया गया है। वहीं, स्वास्थ्य विभाग को लू से प्रभावित लोगों के इलाज, ओआरएस, जीवन रक्षक दवा, आइसोलेशन वार्ड व चलंत चिकित्सा दल की व्यवस्था करने को कहा गया है।

स्कूलों को सुबह की पाली में चलाने और गर्मी की छुट्टी समय से पहले करने की अपील की गई है। साथ ही ओआरएस की व्यवस्था रखने को कहा गया है। आपदा प्रबंधन विभाग ने गर्मी में पशुओं के लिए भी पानी की व्यवस्था का निर्देश दिया है। मनरेगा के तहत सुबह छह से 11 बजे तक और शाम में तीन से साढ़े छह बजे तक मजदूरी कराने को कहा गया है। इसके अलावा अन्य विभागों को भी सलाह दी गई है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!