Global Statistics

All countries
529,841,706
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
All countries
486,156,477
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
All countries
6,306,402
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm

Global Statistics

All countries
529,841,706
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
All countries
486,156,477
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
All countries
6,306,402
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
spot_imgspot_img

West African देश बुर्किना फासो के राष्ट्रपति विद्रोहियों से घिरे, तख्ता पलट का खतरा बढ़ा

पश्चिम अफ्रीकी देश (West African Country) बुर्किना फासो (Burkina Faso) में सेना की बैरकों पर हमला कर जोरदार गोलीबारी के बाद वहां के राष्ट्रपति रोच मार्क क्रिश्चियन काबोरे विद्रोहियों से घिर गए हैं।

Ougadougou(West Africa): पश्चिम अफ्रीकी देश (West African Country) बुर्किना फासो (Burkina Faso) में सेना की बैरकों पर हमला कर जोरदार गोलीबारी के बाद वहां के राष्ट्रपति रोच मार्क क्रिश्चियन काबोरे विद्रोहियों से घिर गए हैं। इस घटनाक्रम से देश की मौजूदा सरकार का तख्ता पलटने का खतरा बढ़ गया है।

बुर्किना फासो की राजधानी औगाडोउगोउ के एक सैन्य अड्डे पर सुबह हुई भारी गोलीबारी से हड़कंप मच गया था। बुर्किना फासो के रक्षा मंत्री बर्थेलेमी सिम्पोर ने कहा कि न सिर्फ औगाडोउगोउ की सैन्य बैरक, बल्कि देश के कुछ अन्य शहरों में भी सेना की बैरकों पर हमले हुए हैं। वैसे राष्ट्रपति रोच मार्क क्रिश्चियन काबोर को विद्रोही सैनिकों द्वारा हिरासत में लिये जाने की जानकारी भी आई थी किन्तु रक्षा मंत्री ने इससे इनकार किया। राष्ट्रपति इस समय कहां हैं, यह जानकारी देने से भी रक्षा मंत्री ने इनकार किया।

हालांकि बाद में पता चला कि राष्ट्रपति भवन के आसपास तेज गोलीबारी हुई है। राष्ट्रपति विद्रोही सैनिकों से घिर गए हैं। राष्ट्रपति आवास के पास देखी गयी उनके काफिले की गाड़ियों में से एक पर खून के निशान भी देखे गए हैं। हालांकि सरकार ने स्थिति नियंत्रण में होने की बात कही है। इस घटनाक्रम के बाद बुर्किना फासो की सरकार की ओर से एक बयान भी जारी किया गया। बयान में सेना की बैरकों में गोलीबारी किये जाने की बात स्वीकार की गयी है। बयान में देश पर सेना का कब्जा होने की बात से इनकार किया गया है। दावा किया गया कि गणराज्य की किसी भी संस्था को निशाना नहीं बनाया गया है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!