spot_img

14 दिनों तक ताले में फंसा रहा युवक का प्राइवेट पार्ट, डॉक्टरों ने इलेक्ट्रिक कटर से काट कर निकाला

इस अजीबोगरीब मामले में बैंकॉक में रहने वाले एक शख्स का प्राइवेट पार्ट ताले में फंस गया, जिसके बाद उसे डॉक्टरों की मदद से निकाला जा सका।

बैंकॉक: थाईलैंड की राजधानी बैंकाक में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। इस अजीबोगरीब मामले में बैंकॉक में रहने वाले एक शख्स का प्राइवेट पार्ट ताले में फंस गया, जिसके बाद उसे डॉक्टरों की मदद से निकाला जा सका। युवक का प्राइवेट पार्ट 14 दिनों तक ताले में फंस रहा और उसे निकालने के लिए डॉक्टरों को इलेक्ट्रिक कटर का इस्तेमाल करना पड़ा। इस घटना की वजह से शख्स ने हमेशा के लिए अपना प्राइवेट पार्ट खो दिया।

शख्स ने करीब दो हफ्ते दर्द झेलने के बाद अपनी मां को इस बात की जानकारी दी और तब जाकर महिला अपने बेटे को अस्पताल ले गई। हालांकि, जब तक ताला हटाया गया तब तक देर हो चुकी थी और अब इस शख्स ने प्राइवेट पार्ट हमेशा के लिए खो दिया है।

दरअसल, 38 साल का एक सिंगल युवक छोटे ताले के साथ मास्टरबेट कर रहा था और उसी दौरान उसने उस ताले की चाभी खो दी। जिसके बाद लोहे के उस पैडलॉक में उसका प्राइवेट पार्ट जकड़ गया और वो फूलने लगा। युवक ने करीब दो हफ्ते तक दर्द में समय में बिताया। इस दौरान युवक ने उस छोटे पैडलॉक को हटाने की भरपूर कोशिश की लेकिन असफल रहा। 14 दिनों तक उस ताले में ही फंसे रहने की वजह से उसका प्राइवेट पार्ट संक्रमित हो गया और असहनीय दर्द होने लगा। जिसके बाद युवक ने अपनी माँ को इस बात की जानकारी दी।

इसके बाद युवक को मां ने अस्पताल में भर्ती कराया। इस शख्स का नाम अभी तक जाहिर नहीं किया गया है। हालांकि, जानकारी के मुताबिक यह शख्स सिंगल है और अपनी मां के साथ रहता है। शख्स की मां के मुताबिक, उनका बेटा अपने अकेलेपन से परेशान है और इसलिए वह ताले का इस्तेमाल मास्टरबेट के लिए कर रहा था। बल्कि यह पहली बार नहीं था जब उसने ताले का इस्तेमाल किया हो। शर्म की वजह से इस शख्स ने अपनी परेशानी किसी से साझा नहीं की थी लेकिन दो हफ्ते तक प्राइवेट पार्ट ताले में फंसे रहने की वजह से संक्रमण बढ़ गया था।

युवक की मां ने घर पहुंचे आपातकालीन सेवा के सदस्यों को बताया कि उसके बेटे की कोई प्रेमिका नहीं थी और वह कोरोना महामारी के दौरान ज्यादातर समय घर पर रहने की वजह से ‘ऊब’ रहा था। पीड़ित युवक की मां ने कहा, ‘मेरा बेटा अंतर्मुखी है और उसकी कोई प्रेमिका नहीं है। उसने मुझसे कहा कि उसने ऐसा इसलिए किया क्योंकि वह ऊब गया था और वह अपने प्राइवेट पार्ट को छोटे-छोटे छेदों में डालना पसंद करता था। मुझे इस तरह शर्मिंदा करने के लिए मैं उस पर गुस्सा थी और मैंने उसे दोबारा ऐसा नहीं करने के लिए कहा.’

अस्पताल में दर्द से बेचैन युवक के प्राइवेट पार्ट को ताले से निकालने के लिए डॉक्टरों ने इलेक्ट्रिक कटर का उपयोग किया। अस्पताल के सूत्रों के मुताबिक, डॉक्टरों को इलेक्ट्रिक कटर जैसे उपकरण से ताले को काटना पड़ा। इस शख्स की सर्जरी करीब आधे घंटे तक चली। हालांकि, इस दौरान शख्स का प्राइवेट पार्ट बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया था और अब वह हमेशा के लिए खराब हो गया है।
शख्स का अभी भी इन्फेक्शन के लिए इलाज चल रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि मरीज अभी भी दर्द में है। हालांकि, पेन किलर्स देकर उसके दर्द को कम करने की कोशिश की जा रही है।

डॉक्टरों ने कहा,  ‘हम उस व्यक्ति का नाम नहीं बता सकते, लेकिन हम अन्य लोगों को इस तरह का काम करने से रोकने के लिए इसे घटना को सार्वजनिक करना चाहते हैं। यह बहुत खतरनाक हो सकता है और शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है।’

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!