spot_img
spot_img

Afghanistan में तालिबान ने जवान लड़कियों और विधवाओं की मांगी सूची

तालिबानियों ने नया फरमान जारी किया है, जिसमें 15 साल से अधिक उम्र की लड़कियों और उन विधवाओं की सूची मांगी है, जिनकी उम्र 45 साल से कम है।

काबुल: अमेरिकी सेना की वापसी की घोषणा के साथ ही अफगानिस्तान में हर दिन तालिबान आतंकियों का खौफ और क्षेत्र बढ़ता जा रहा है। इसके साथ ही तालिबानियों ने नया फरमान जारी किया है, जिसमें 15 साल से अधिक उम्र की लड़कियों और उन विधवाओं की सूची मांगी है, जिनकी उम्र 45 साल से कम है।

जानकारी के अनुसार तालिबान ने कहा है कि वो इन लड़कियों और महिलाओं की शादी अपने लड़ाकुओं के साथ करवाएगा और फिर उन्हें पाकिस्तान के वजीरिस्तान ले जाएगा, जहां उनका धर्म परिवर्तन किया जाएगा।

जानकारी के अनुसार तालिबान कल्चर कमीशन के नाम से एक खत तालिबान ने उन इमामों और मुल्लाओं को दिया है, जिन इलाकों पर उसने कब्जा कर लिया है। इस खत में लड़कियों और विधवाओं की सूची सौंपने की मांग की गई है।

तालिबान लड़ाकों ने ईरान, पाकिस्तान, उज्बेकिस्तान और तजाकिस्तान से सटे सीमावर्ती इलाकों के कई महत्वपूर्ण शहरों पर कब्जा जमा लिया है।

इससे पहले तालिबानियों ने फरमान जारी कर अफगानिस्तान के नार्थ ईस्टर्न तकहार की महिलाओं से कहा कि वह अकेले घर से बाहर ना निकलें और पुरुष दाढ़ी बढ़ा लें।

एक रिपोर्ट के अनुसार अफगानिस्तान में लोग तालिबान की दहशत की वजह से परेशान हैं। यहां लोग घरों में ऊंची आवाज में नहीं बोलते, म्यूजिक नहीं सुनते और घर की महिलाएं यहां तक की बाजार भी नहीं जाती हैं। तालिबानियों के दहशत से परेशान अफगानिस्तान के लोगों का कहना है कि वो डरे हुए हैं कि तालिबानी उनकी बेटियों को ले जाएंगे और उनसे शादी रचाएंगे और गुलाम बना कर रखेंगे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!