Global Statistics

All countries
196,692,497
Confirmed
Updated on Thursday, 29 July 2021, 8:31:56 am IST 8:31 am
All countries
176,381,868
Recovered
Updated on Thursday, 29 July 2021, 8:31:56 am IST 8:31 am
All countries
4,203,599
Deaths
Updated on Thursday, 29 July 2021, 8:31:56 am IST 8:31 am

Global Statistics

All countries
196,692,497
Confirmed
Updated on Thursday, 29 July 2021, 8:31:56 am IST 8:31 am
All countries
176,381,868
Recovered
Updated on Thursday, 29 July 2021, 8:31:56 am IST 8:31 am
All countries
4,203,599
Deaths
Updated on Thursday, 29 July 2021, 8:31:56 am IST 8:31 am
spot_imgspot_img

Defamatory कन्टेंट के आरोप में सोशल मीडिया एक्टिविस्ट गिरफ्तार

सोशल मीडिया पर गलत कंटेंट प्रसारित करने के लिए किशोर को गिरफ्तार किया गया है।कथित रूप से अपमानजनक सामग्री पोस्ट करने के लिए उन्हें पहले दो बार गिरफ्तार किया गया था।

चेन्नई: लोकप्रिय सोशल मीडिया कमेंटेटर और अन्नाद्रमुक और भाजपा के समर्थक किशोर के स्वामी पर चेन्नई सिटी पुलिस ने द्रमुक नेताओं और पूर्व मुख्यमंत्रियों सी.एन. अन्नादुरई और एम. करुणानिधि के बारे में गलत कॉन्टेंट प्रसारित करने आरोप लगाया गया है। साथ ही मुख्यमंत्री एम के स्टालिन के बारे में भी सोशल मीडिया पर गलत कंटेंट प्रसारित करने के लिए किशोर को गिरफ्तार किया गया है। सोशल मीडिया पर मुख्य रूप से ट्विटर पर महिला पत्रकारों के खिलाफ कथित रूप से अपमानजनक सामग्री पोस्ट करने के लिए उन्हें पहले दो बार गिरफ्तार किया गया था। सोशल मीडिया एक्टिविस्ट को उनकी पिछली दो गिरफ्तारियों के दौरान तुरंत रिहा कर दिया गया था।

किशोर के स्वामी को शंकर नगर पुलिस ने सोमवार को कांचीपुरम जिले के आईटी प्रभारी रविचंद्रन की शिकायत के बाद गिरफ्तार किया गया, जो 10 जून को दर्ज की गई थी। शिकायतकर्ता ने पुलिस के समक्ष अपनी याचिका में आरोप लगाया था कि सोशल मीडिया कार्यकर्ता ने पूर्व मुख्यमंत्रियों और तमिलनाडु के अत्यधिक सम्मानित नेताओं, स्वर्गीय सी एन अन्नादुरई और एम. करुणानिधि के खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया। याचिकाकर्ता ने यह भी आरोप लगाया कि वर्तमान मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन के लिए भी अपमानजनक कंटेंट प्रसारित किया गया है।

चेन्नई पुलिस के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा कि किशोर के स्वामी को आईपीसी की धारा 153, 505 (1) (बी) और धारा 505 (1) (सी) के तहत गिरफ्तार किया गया है।

उसे एक मजिस्ट्रेट के आवास में पेश किया गया और उसने किशोर के स्वामी को 28 जून तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया। वह चेंगलपेट्टू उप जेल में बंद है।(IANS)

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!