Global Statistics

All countries
343,212,450
Confirmed
Updated on Friday, 21 January 2022, 10:29:28 am IST 10:29 am
All countries
274,213,002
Recovered
Updated on Friday, 21 January 2022, 10:29:28 am IST 10:29 am
All countries
5,593,336
Deaths
Updated on Friday, 21 January 2022, 10:29:28 am IST 10:29 am

Global Statistics

All countries
343,212,450
Confirmed
Updated on Friday, 21 January 2022, 10:29:28 am IST 10:29 am
All countries
274,213,002
Recovered
Updated on Friday, 21 January 2022, 10:29:28 am IST 10:29 am
All countries
5,593,336
Deaths
Updated on Friday, 21 January 2022, 10:29:28 am IST 10:29 am
spot_imgspot_img

Bio-bubble फूट गया, KKR के दो खिलाड़ी कोरोना पॉजिटव हुए, आज का मैच पोस्टपोन किया गया

By Girish Malviya

इस बार के आईपीएल में खिलाड़ियों के कोरोना से बचाव के लिए एक फुलप्रूफ व्यवस्था की गई थी जिसे बहुत सुरक्षित बताया जा रहा था इसे बायो बबल कहा जा रहा है.

दरअसल बायो-बबल (Bio-bubble) एक ऐसा वातावरण है जिसमें रहने वाले लोग पूरी तरह से बाहरी दुनिया से कट जाते हैं। आईपीएल के सफल आयोजन के लिए भी इसी तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा हैं इस व्यवस्था में खिलाड़ी, सपोर्ट स्टाफ, होटल स्टाफ के साथ ही आयोजन से जुड़े हुए सभी व्यक्ति को कोरोना टेस्ट कर के निगेटिव आने पर बाहरी लोगों के संपर्क से दुर रखा जाता है। सीरीज शुरू होने से पहले भी इन्हें सात दिनों के लिए क्वरैंटाइन किया जाता है। जब तक सीरीज खत्म नहीं हो जाता तब तक इन्हें किसी से भी मिलने की इजाजत नहीं होती है।

ये खिलाड़ी बायो बबल एरिया में रहें और जो एरिया निर्धारित की गई है उससे बाहर न जाएं। इस पर नजर रखने के लिए सभी खिलाडि़यों को ट्रैकिंग डिवाइस दी गयी थी. यह डिवाइस रिस्ट बैंड या चेन के रूप में है जो हमेशा खिलाडि़यों को होटल कमरे से बाहर निकलने पर पहननी होती है। इससे खिलाडि़यों को पता चलेगा कि उन्हें किन जगहों पर जाना है और कौन सी जगह बायो-बबल के तहत आते हैं। जैसे ही खिलाड़ी बायो-बबल एरिया से बाहर जाएंगे इस डिवाइस से आवाज आएगी और खिलाड़ी अलर्ट हो सकते है..

यही नही जिन होटलों में खिलाड़ी ठहरे हैं, वहां के सभी कर्मचारी और खिलाडि़यों की बस के ड्राइवर को 14 दिन का क्वारंटाइन रखा गया था इस बीच उनकी नियमित कोरोना जांच भी की गई। नेगेटिव रिपोर्ट आने पर ही इनकी ड्यूटी लगाई गई। पूरे आईपीएल के दौरान ये बायो बबल से बाहर नहीं जा सकते हैं। अपने घर भी उन्हें जाने की इजाजत नही थी

इतनी कड़ी व्यवस्था भी महीने भर नही चल पायी ओर कोरोना वायरस ने बायो बबल ब्रेक कर दिया तो आपका हमारा घर कौन सी बड़ी चीज है.

डिसक्लेमर:ये लेखक के निजी विचार है.

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!