spot_img

वाह! ई-रिक्शा चला परिवार का पेट पालती है ‘प्रिंसी’

रिपोर्ट: बिपिन कुमार 

धनबाद: 

धनबाद में ई-रिक्शा चलाने वाली पहली महिला प्रिंसी चावला महिलाओं के लिए मिसाल बन चुकी हैं. धनबाद की सड़कों पर ई-रिक्शा चलाने वाली प्रिंसी अकेली महिला है जो अपने बुते पर घर और समाज को संभाल रही है. प्रिंसी भाड़े की ई-रिक्शा लेकर खुद ड्राइव करते हुए पैसेंजर को उनके गंतव्य स्थल तक पहुँचाती हैं. यही नहीं घर का सारा काम भी बखूबी निभाती है.

प्रिंसी चावला का कहना है कि आज कई क्षेत्रों में महिलायें आगे आ रही है. लेकिन कुछ वैसी महिलायें जो मजबूरन दुसरों के घर का बर्तन-चौका कर रही हैं, जिससे महिलाओं के सम्मान को चोट लग रही है. सभी महिलाओ को यह काम छोड़ कर खुद अपने पैरों पर खड़ा होना चाहिए. प्रिंसी नौवीं तक पढ़ी हैं. उनके घर में पति और 11 साल की एक बेटी भी है. सुबह दस बजे घर का सारा काम निपटा कर वो घर से निकल जाती है और रात के नौ बजे तक घर भी आ जाती है. घर के कामो में उनके पति भी उनका पूरा साथ देते है.

ई रिक्शा

रोजाना 200 सौ तक कमा लेती है प्रिंसी:  

प्रिंसी ने बताया कि उन्होंने भाड़े पर ई-रिक्शा ले रखा है. हर दिन की कमाई 500 होती है, जिसमे भाड़े के तौर 300 रूपए मालिक को देती हैं और दो सौ रूपए घर लेकर जाती हैं. वही इस काम में थोड़ी परेशानी भी आती है. वही प्रिंसी ने धनबाद के विधायक राज सिन्हा से मदद की गुहार लगाईं है कि अगर विधायक द्वारा उन्हें यह इ रिक्शा दे दिया जाता है तो उनकी आर्थिक परेशानियाँ खत्म हो जाएँगी. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!