spot_img

कहीं साजिश का शिकार तो नहीं हो रहा Deoghar Airport!

Deoghar: बड़े ही धूमधाम से पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों शुरू हुआ Deoghar Airport कहीं किसी साजिश का शिकार तो नहीं। कहीं Deoghar Airport को फेल्योर साबित करने की कोई षड्यंत्र तो नहीं रची जा रही। वरना, इंटरनेशनल एयरपोर्ट की तर्ज पर तैयार इस एयरपोर्ट की ऐसी स्थिति को स्वीकार कर पाना मुश्किल है। ये बातें देवघर के उन बुद्धिजीवियों ने कही है जो देवघर एयरपोर्ट तो उड़ान भरने गए लेकिन जरा सी मौसम ने बईमानी क्या की फ्लाइट ने धोखा दे दिया और कैंसिल हो गयी।

बुद्धिजीवियों ने सवाल उठाये हैं कि आखिर ऐसी क्या वजह है कि जरा सा छाए बादल में फ्लाइट देवघर एयरपोर्ट पर लैंड नहीं हो सकता, उसे या तो रिटर्न कर दिया जाता है या तो कैंसिल। माना कि नाईट लैंडिंग की सुविधा नहीं है यहां पर, लेकिन रात के अँधेरे और दिन के उजाले में छाए हल्के बादल से पैदा हुई विजिबिलिटी की कमी में फर्क है। लोगों ने कहा कि हमें जानकारी है कि विजिबिलिटी सही नहीं होने पर फ्लाइट लैंड नहीं हो सकती, कई एयरपोर्ट से ऐसी सूचना मिलती है लेकिन वो भी तब जब मौसम ज्यादा खराब हो। दिन में भी अंधेरा जैसा नजारा हो। यहां तो हल्का बादल मंडराया नहीं कि फ्लाइट कैंसिल।

लोगों ने शंका जाहिर की है कि देवघर एयरपोर्ट को बंद कराने को लेकर साजिश तो नहीं रची जा रही है। आरोप है कि या तो यहां एयर ट्रैफिक कण्ट्रोल करने वाले लोग कहीं और से कंट्रोल होकर सही से काम नहीं कर रहे, या फिर यहां सही एक्विपमेंट नहीं लगाए गए हैं। जिस वजह से आये दिन ऐसी परेशानी हो रही है।

वहीं, सांसद निशिकांत दुबे ने भी इस मसले पर देवघर एयरपोर्ट को राज्य सरकार द्वारा बंद कराने की साज़िश करार दिया है। उनका आरोप है कि राज्य की हेमंत सरकार देवघर एयरपोर्ट को बंद कराने की साजिश रच रही। इधर, एयरपोर्ट पर यात्रियों को हो रही परेशानी पर सांसद निशिकांत दुबे की याचिका पर मंगलवार को झारखंड हाई कोर्ट में भी सुनवाई के दौरान अदालत ने देवघर DC को यह निर्देश दिया है कि जिन 9 भवन मालिकों को उनका भवन तोड़े जाने सम्बंधित नोटिस दिया गया है उसका नोटिस तामिला करा कर रिपोर्ट कोर्ट के समक्ष समर्पित करें।

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो अबतक दिल्ली से देवघर आने वाली इंडिगो की फ्लाइट 13 बार कैंसिल हो चुकी है, जबकि तीन बार फ्लाइट को दुर्गापुर और कोलकाता में लैंड कराना पड़ा। दो बार तो फ्लाइट देवघर आकर चक्कर लगा कर वापस दिल्ली लौट गयी। कोलकाता वाली फ्लाइट का भी यही हाल है। 10 बार कैंसिल हो चुकी है, दो बार वापस कोलकाता जा चुकी है। ऐसे में यात्रियों को बार-बार हो रही परेशानी की वजह से अब वो देवघर एयरपोर्ट पर ट्रस्ट नहीं कर पा रहे।

बताया जा रहा कि मौसम में आई मामूली खराबी में विजिबिलिटी काफी कम हो जाने की वजह से फ्लाइट लैंडिंग में समस्या आ रही है। देवघर एयरपोर्ट में अब तक इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम नहीं लग पायी है। फिलहाल एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम का बेसिक कार्य ही चालू किया गया है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!