spot_img

CM हेमंत सोरेन ने देवघर को बर्बाद करने की सुपारी किसी को दे रखी है: MP Nishikant

देवघर में महाशिवरात्रि पर बाबा बैद्यनाथ मंदिर में उस वक़्त अफरा-तफरी का माहौल बन गया। जब शीघ्रदर्शनम के लिए कुछ भक्त वीआईपी गेट से जलाभिषेक के लिए अंदर जाने की कोशिश कर रहे थे, इसी दौरान कुछ देर के लिए हालात बिगड़ गए।

Deoghar: देवघर में महाशिवरात्रि पर बाबा बैद्यनाथ मंदिर में उस वक़्त अफरा-तफरी का माहौल बन गया। जब शीघ्रदर्शनम के लिए कुछ भक्त वीआईपी गेट से जलाभिषेक के लिए अंदर जाने की कोशिश कर रहे थे, इसी दौरान कुछ देर के लिए हालात बिगड़ गए। भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस ने छड़ी चला दी। इस दौरान कई भक्त जमीन पर गिर पड़े और कई चोटिल भी हो गए। हालाँकि, मौके पर मौजूद पुलिस अधिकारियों ने हालात को संभाल लिया। लेकिन पुलिस के इस रवैये से भक्तों के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों ने भी व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए।

मंदिर प्रांगण में भक्तों पर छड़ी बरसाने और अनियंत्रित भीड़ का वीडियो शेयर करते हुए गोड्डा से बीजेपी सांसद डॉ. निशिकांत दुबे ने लिखा है “जब आस्था पर राजनीति हावी हो तो श्रद्धालुओं का यही हाल होता है । मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी ने देवघर को बर्बाद करने की सुपारी किसी को दे रखी है। जलार्पण करने आये महिलाओं और बच्चों को भयंकर परेशानी का सामना भी करना पड़ रहा है”

जाहिर है यहां किसी को का मतलब उनसे है जिन्हें जिले की जिम्मेदारी सौंपी गयी है।

विधायक अंबा प्रसाद भी हुईं नाराज

इधर, महाशिवरात्रि पर बाबा मंदिर पहुंची बड़कागांव से कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद ने भी अवयवस्था का आलम देख नाराजगी जाहिर की। इस बीच मंदिर प्रांगण में उनकी मंदिर प्रबंधक रमेश परिहस्त से तीखी बहस भी हुई।

भक्तों पर छड़ी बरसता और उन्हें चोट लगती देख विधायक अंबा प्रसाद ने प्रशासनिक वयवस्थाओं पर सवाल उठाते हुए साफ़ कहा कि ऐसे बदइंतज़ामी कर सरकार को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है।

बता दें, कि महाशिवरात्रि पर बड़ी संख्या में भक्त बाबा बैद्यनाथ को जलार्पण करने पहुंचे हैं। हालांकि, DC-SP खुद तमाम इंतज़ाम की निगरानी कर रहे हैं ताकि श्रद्धालु सुगम जलार्पण कर सकें।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!