Global Statistics

All countries
529,160,159
Confirmed
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 12:46:24 pm IST 12:46 pm
All countries
485,488,674
Recovered
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 12:46:24 pm IST 12:46 pm
All countries
6,303,961
Deaths
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 12:46:24 pm IST 12:46 pm

Global Statistics

All countries
529,160,159
Confirmed
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 12:46:24 pm IST 12:46 pm
All countries
485,488,674
Recovered
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 12:46:24 pm IST 12:46 pm
All countries
6,303,961
Deaths
Updated on Wednesday, 25 May 2022, 12:46:24 pm IST 12:46 pm
spot_imgspot_img

Central Universities में Addmission के लिए 2 अप्रैल से भरे जा सकेंगे CET के फॉर्म, अधिसूचना जारी

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने फैसला किया है कि देश के सभी 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों के स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए एक सामान्य प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाएगी।

New Delhi: राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी यानी NTA ने विश्वविद्यालय में दाखिले के लिए कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CET) की अधिसूचना जारी कर दी है। देशभर के सभी केंद्रीय विश्वविद्यालयों में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए एडमिशन यह फॉर्म 2 अप्रैल से वेबसाइट पर उपलब्ध होंगे। एडमिशन के लिए कॉमन एंट्रेंस टेस्ट का फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 30 अप्रैल, 2022 है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानी यूजीसी के चेयरमैन एम. जगदीश कुमार ने बताया कि कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट जुलाई के प्रथम सप्ताह में कराने की योजना है। ये परीक्षाएं जुलाई के प्रथम सप्ताह में ली जानी हैं, लेकिन जुलाई में होने वाली इन परीक्षाओं की स्टीक डेट अभी तय नहीं की जा सकी है।

गौरतलब है कि केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने फैसला किया है कि देश के सभी 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों के स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए एक सामान्य प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाएगी। यूजीसी का कहना है कि यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET) शिक्षा के ‘समानीकरण’ की दिशा में एक बड़ा कदम है।

यूजीसी का कहना है कि कॉमन एंट्रेंस टेस्ट का सबसे बड़ा लाभ यह है कि कॉमन एंट्रेंस टेस्ट में प्रदर्शन के आधार पर भारत भर के केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश दिया जाएगा। यूजीसी का यह भी कहना है कि समान अवसर प्रदान करने की मंशा से 13 भाषाओं हिंदी, गुजराती, मराठी, तमिल, तेलुगू, मलयालम, कन्नड़, बंगाली, उड़िया, असमिया, पंजाबी, उर्दू और अंग्रेजी में यह परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। इस इससे भी सभी क्षेत्र और वर्गो के छात्रों को समान अवसर उपलब्ध हो सकेंगे।

यूजीसी के अनुसार, कॉलेजों में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के लिए आवेदन प्रक्रिया अप्रैल 2022 के पहले सप्ताह में शुरू होगी। जुलाई 2022 के पहले सप्ताह में प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाएगी।

इन परीक्षाओं के लिए एग्जाम का पैटर्न इस प्रकार का रखा गया है, जिसमें बहुविकल्पीय प्रश्न एमसीक्यू होंगे। यह परीक्षा दो शिफ्ट में आयोजित की जाएगी। पहली शिफ्ट में उम्मीदवार अपनी पसंद की एक भाषा और अपने पाठ्यक्रम के आधार पर दो विषयों के साथ सामान्य परीक्षा देंगे। वहीं, दूसरी शिफ्ट में, छात्र शेष चार डोमेन-स्पेसिफिक विषयों के साथ-साथ फ्रेंच, अरबी, जर्मन आदि वैकल्पिक भाषा की परीक्षा देंगे। कॉमन एंट्रेंस टेस्ट कि यह पूरी परीक्षा एनसीईआरटी परीक्षा के कक्षा 12वीं के सिलेबस पर आधारित होगी।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!