spot_img

अमेरिकी नागरिकों को लगा रहे थे चूना: फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश, पांच गिरफ्तार

भारत में बैठकर अमेरिकी नागरिकों को टेक्नीकल सपोर्ट देने के नाम पर चूना लगाने वाले एक फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश दक्षिण जिले की मालवीय नगर थाना पुलिस ने किया है।

नई दिल्ली: भारत में बैठकर अमेरिकी नागरिकों को टेक्नीकल सपोर्ट देने के नाम पर चूना लगाने वाले एक फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश दक्षिण जिले की मालवीय नगर थाना पुलिस ने किया है। पुलिस ने पांच आरोपितों को भी गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार आरोपितों की पहचान निखिल सैनी, राहुल शर्मा, पर्थ , राहुल और अनंत कामत के रूप में हुई है। अनंत को छोड़कर सभी आरोपित दक्षिण दिल्ली के खिड़की एक्सटेंशन के रहने वाले हैं, वहीं अनंत मुंबई का रहने वाला है। पुलिस ने बताया आरोपित एक विशेष तरह के सॉफ्टवेयर की मदद से सैंकड़ों विदेशी नागरिकों से मोटी रकम ऐंठ चुके हैं। पुलिस को मामले में कुछ अन्य आरोपितों की तलाश है।

मालवीय नगर थाना पुलिस ने गिरफ्तार आरोपितों के पास से पांच कंप्यूटर व अन्य सामान बरामद किया है। पुलिस आरोपितों के बैंक खातों की जांच कर पता लगाने का प्रयास कर रही है कि इन लोगों ने अब तक कितने लोगों को चूना लगााया है।

दक्षिण जिले की डीसीपी बेनिता मैरी जैकर ने शनिवार को बताया कि पेट्रोलिंग के दौरान उनकी मालवीय नगर थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि खिड़की एक्सटेंशन इलाके में एक फर्जी कॉल सेंटर चलाया जा रहा है। सूचना के बाद फौरन एसएचओ टीम ने जांच शुरू की। जांच के बाद एक मकान पर छापा मारकर पांचों आरोपितों को दबोच लिया गया।

पूछताछ के दौरान आरोपितों ने बताया कि वह रात के समय अमेरिकी नागरिकों के साथ ठगी करते थे। आरोपित अमेरिकी नागरिकों को कंप्यूटर पर तकनीकी सहायता देने की बात कर उनसे 100-400 अमेरिकी डॉलर तक अपने खाते में ट्रांसफर करवा लेेते थे। आरोपित खुद को टेक्नीकल एडवाइजर बताते थे।

इसके अलावा पीड़ितों के मोबाइल नंबर पर गिफ्ट कार्ड भेजते थे। उसके जरिये पर भी आरोपित पीड़ितों के खाते में सेंध लगाकर वारदात को अंजाम देते थे। आरोपितों ने बताया है कि यह लोग ठगी में हाईएंड सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करते थे। ठगी की रकम को महीनें में आपस में बांट लिया जाता था। फिलहाल इनका गैंग सरगना फरार है। पुलिस बाकी आरोपितों की तलाश में छापेमारी कर रही है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!