spot_img
spot_img

दुष्कर्म में विफल युवक ने मां-बेटी को जिंदा जलाया

बिहार में अरवल जिले के परासी थाना क्षेत्र के चकिया गांव में सोमवार की देर रात दुष्कर्म की नीयत से घर में घुसे गांव के एक युवक ने मंसूबे में विफल होने पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी

निधि राजदान ने NDTV छोड़ा

Patna/Arwal: बिहार में अरवल जिले के परासी थाना क्षेत्र के चकिया गांव में सोमवार की देर रात दुष्कर्म की नीयत से घर में घुसे गांव के एक युवक ने मंसूबे में विफल होने पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी, जिसमें मां-बेटी गंभीर रूप से झुलस गईं। पटना के पीएमसीएच में इलाज के दौरान मंगलवार सुबह दोनों की मौत हो गई।

परासी थाना अध्यक्ष संजीत सिंह ने बताया कि दुष्कर्म की नियत से घर में घुसे युवक ने घर में आग लगा दी।मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने किसी तरह उन्हें वहां से निकालकर सदर अस्पताल अरवल पहुंचाया। वहां से दोनों को पीएमसीएच रेफर कर दिया गया। सुमन देवी 32 वर्ष व उसकी सात वर्षीय पुत्री राधिका कुमारी की पटना में इलाज के दौरान अहले सुबह मौत हो गई।

ग्रामीणों ने बताया कि सुमन देवी का पति अंजित पासवान उर्फ जटा पासवान शराब के साथ पकड़ा गया था। वह जेल में है। गांव के ही गोपी महतो का बेटा नंद कुमार महतो उसकी पत्नी पर हमेशा बुरी नजर रखता था। अजीत के जेल जाते ही उसे मौका मिल गया। अकेला पाकर हमेशा वह सुमन के साथ छेड़छाड़ करता था। वह विरोध करती तो वह धमकाता था। आरोप है कि हर रात वह उसके घर आ धमकता था। महिला के विरोध के बाद लौट जाता था।

ग्रामीणों ने बताया कि अक्सर करता था गंदी हरकत : 

गोपी महतो का बेटा नंद कुमार महतो सोमवार की रात में शराब के नशे में धुत होकर सुमन देवी के घर पहुंचा और दुष्कर्म का प्रयास करने लगा। महिला ने किसी तरह अपना बचाव करते हुए घर से धक्का देकर नंदकुमार को बाहर निकाल दिया और दरवाजा बंद कर लिया। इससे आक्रोशित होकर आरोपित अपने घर गया। बाइक से पेट्रोल निकालकर लौटा। छप्पर पर पेट्रोल छिड़क आग लगा दी। घर का दरवाजा भी बाहर से बंद कर दिया। 

देर से पहुंचे ग्रामीण, तब तक झुलस गईं थीं मां-बेटी:

आग में घिरीं मां-बेटी चीखने-चिल्लाने लगी। रात होने के वजह से गांव वाले देर से पहुंचे। तब तक छप्पर जलकर मां बेटी पर गिर चुका था। दोनों जलने लगीं। ग्रामीणों ने दरवाजा तोड़कर मां-बेटी को किसी तरह घर से बाहर निकाला। आनन-फानन इलाज के लिए सदर अस्पताल ले गए। दोनों की गंभीर स्थिति को देखते हुए चिकित्सकों ने तत्काल पटना रेफर कर दिया, जहां इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई। ग्रामीण के निशानदेही के आधार पर आरोपित नंद कुमार को परासी थाने की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!