spot_img
spot_img

Bihar: धनकुबेर निकले नवादा के रेंज अफसर, SVU की रेड में करोड़ों की चल-अचल संपत्ति का खुलासा

विशेष निगरानी इकाई (SVU) ने नवादा के रेंज अधिकारी अखिलेश्वर प्रसाद के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में बड़ी कार्रवाई की है। शुक्रवार को उनके पटना और नवादा स्थित ठिकानों की तलाशी में करोड़ों की चल-अचल संपत्ति का खुलासा हुआ है।

Nawada/Patna: विशेष निगरानी इकाई (SVU) ने नवादा के रेंज अधिकारी अखिलेश्वर प्रसाद के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में बड़ी कार्रवाई की है। शुक्रवार को उनके पटना और नवादा स्थित ठिकानों की तलाशी में करोड़ों की चल-अचल संपत्ति का खुलासा हुआ है। अबतक 34 लाख रुपये नगदी के अलावा 80 लाख के सोने-चांदी की ईट और जेवर मिले हैं। खुद और परिजनों के नाम पर करोड़ों के निवेश की भी जानकारी जांच अधिकारियों को लगी है, जिसका अभी आकलन किया जा रहा है।

पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के अधीन रेंज अधिकारी अखिलेश्व प्रसाद वर्तमान में नवादा में पदस्थापित हैं। एसवीयू को इनके पास आय से अधिक संपत्ति होने की जानकारी मिली थी। छानबीन के दौरान मामला सत्य पाए जाने के बाद 1,30,56,968 रुपये आय से अधिक की संपत्ति का मामला दर्ज किया गया। गुरुवार को प्राथमिकी दर्ज करने के बाद पटना स्थित विशेष निगरानी न्यायालय से तलाशी वारंट प्राप्त करने के बाद आज छापेमारी की गई।

एसवीयू के मुताबिक अखिलेश्वर प्रसाद ने पद का दुरूपयोग करते हुए बड़े पैमाने पर संपत्ति अर्जित की है। पटना के आशियाना-दीघा रोड स्थित प्रकाशदीप इंक्लेव के फ्लैट अलावा नवादा स्थित दफ्तर सह आवास की भी तलाशी ली गई। नवादा वाले घर से 29 लाख के करीब नगद राशि के अलावा सोने की कई ईंट मिली। वहीं बाकी के कैश और जेवरात आदि पटना वाले फ्लैट की तलाशी में बरामद किए गए। 12 बैंक अकाउंट के अलावा पोस्ट ऑफिस के 10 पासबुक और कई फिक्स डिपोजिट के कागजात मिले हैं।

जांच से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक रेंजर अखिलेश्वर प्रसाद की संपत्ति 10 करोड़ के आसपास पहुंच सकती है। बड़ी संख्या में निवेश से जुड़े कागजात मिले हैं, जिसका आकलन किया जा रहा है। जमीन-जायदाद में निवेश के साथ ही इन्होंने शेयर बाजार में भी भारी-भरकम निवेश कर रखा है। आशियाना-दीघा रोड स्थित फ्लैट के अलावा पटना में इनका तीन मंजिला मकान भी है।

एसवीयू के मुताबिक अखिलेश्वर प्रसाद ने खुद और परिजनों के नाम पर करोड़ों का निवेश किया है। नवादा में रहते इन्होंने मोटी कमाई की और इसी दौरान ज्यादत्तर निवेश किए जाने के प्रमाण मिले हैं। संपत्ति से जुड़े ढेर सारे कागजात मिले हैं। एसवीयू को जानकारी मिली है कि अखिलेश्वर प्रसाद करीब 6 वर्षों से नवादा में ही पदस्थापित हैं। न सिर्फ नवादा के रेंज अधिकारी की जिम्मेदारी उनके पास है, बल्कि इसके अलावा वह रजौली और एक अन्य जगह के भी चार्ज में हैं। एक जगह पर इतने लम्बे समय से उनकी तैनाती को लेकर जांच अधिकारी भी हैरत में हैं।

रेंजर, अखिलेश्वर प्रसाद को धन-दौलत का शौक तो हैं ही पर सोना-चांदी से उनका कुछ ज्यादा ही लगाव है। पटना व नवादा स्थित घरों की तलाशी में सोने-चांदी की ईट के अलावा सोने की गिल्ली और आभूषण भी मिले हैं। जमीन-जायदाद और बैंक खातों के साथ फिक्स डिपोजिट में रखे रुपयों को लेकर जानकारी जुटाई जा रही है। ईओयू को आशंका है दर्ज मुकदमें से कई गुणा ज्यादा संपत्ति इनके पास मिल सकती है। जांच बढ़ने के साथ उनकी संपत्ति को लेकर और भी खुलासे हो सकते हैं।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!