Latest News

देश में 16 जनवरी से शुरू होगा Corona Vaccination, पहले 3 करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों को लगेगा टीका

N7News Admin 09-01-2021 05:32 PM देश

Symbolic Image



बीकानेर


नई दिल्ली। 

कोरोना से जंग जीतने के लिए देश में टीकाकरण (Vaccination) कार्यक्रम 16 जनवरी से शुरू होगा। सबसे पहले तीन करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना का टीका लगाया जाएगा। इसके बाद 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। 

देश में कोरोना की स्थिति को लेकर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने समीक्षा बैठक बुलाई, जिसमें टीकाकरण अभियान को शुरू करने पर फैसला लिया गया। बैठक में कैबिनेट सेक्रेटरी (Cabinet Secretary), पीएम के प्रिंसिपल सेक्रेटरी (Principal Secretary), हेल्थ सेक्रेटरी (Health Secretary) और दूसरे बड़े अधिकारी शामिल हुए। बैठक में प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने देशभर में कोरोना टीकाकरण (Corona Vaccination) की तैयारियों के बारे में जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने Co-WIN वैक्सीन डिलिवरी मैनेजमेंट सिस्टम के बारे में भी जानकारी ली। 

सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों को लगेगा टीका 

शनिवार की बैठक में निर्णय लिया गया कि सबसे पहले वैक्सीन स्वास्थ्यकर्मियों (Health Workers) को लगाई जाएगी। इसके बाद 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और इससे कम उम्र के उन लोगों को टीके लगेंगे जो पहले से ही किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं। ऐसे लोगों की संख्या करीब 27 करोड़ है, जबकि हेल्थ वर्कर्स की अनुमानित संख्या लगभग 3 करोड़ है। 

Co-WIN से कोरोना टीकाकरण की रियल टाइम निगरानी, वैक्सीन के स्टॉक्स से जुड़ीं सूचनाएं, उन्हें स्टोर करने के तापमान और जिन लोगों को वैक्सीन लगनी है, उन्हें ट्रैक करने जैसे काम होंगे। अब तक 79 लाख से ज्यादा लाभार्थियों ने Co-WIN पर रजिस्ट्रेशन कराया है। प्रधानमंत्री को देशभर में आयोजित किए गए तीन चरणों में ड्राई रन से भी अवगत कराया गया। तीसरा ड्राई रन शुक्रवार को देश के सभी जिलों में चलाया गया था। 

मालूम हो कि भारत सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशिल्ड और भारत बॉयोटेक की कोवैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है। 


नमन





रिलेटेड पोस्ट

  • चार साल के बाद जेल से रिहा हुई वी के शशिकला
    एआईएडीएमके से निष्कासित नेता वी के शशिकला को आज अधिकारियों ने औपचारिकताएं पूरी करने के बाद जेल से रिहा कर दिया। शशिकला कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद विक्टोरिया अस्पताल में भर्ती हैं और उनकी रिहाई की प्रक्रिया अस्पताल से पूरी की गई।
  • Farmers Protest : हिंसा के बाद दो किसान संगठनों ने खत्म किया आंदोलन, टिकैत पर लगाए आरोप
    गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर निकाली गई किसान ट्रैक्टर रैली (Kisan Tractor Rally) के दौरान मचे बवाल और हिंसा के बाद किसान आंदोलन (Kisan Andolan) में फूट पड़ गई है। दो किसान संगठनों ने नए कृषि कानूनों के खिलाफ हो रहे आंदोलन को वापस लेने का ऐलान किया है। राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन और भारतीय किसान यूनियन (भानू) ने गाजीपुर और नोएडा बॉर्डर पर चल रहे प्रदर्शन को वापस ले लिया। इसके साथ भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत पर गंभीर आरोप भी लगाए।