Latest News

अनलॉक-02 में चल रहा था ऑनलाइन सेक्स रैकेट,पुलिस ने की रेड तो आपत्तिजनक हालत में मिली विदेशी बाला

N7News Admin 27-07-2020 08:27 PM रांची

Symbolic image




रांची। 

कोरोना काल में जब लोग संक्रमण से बचने के लिए घरों में रहने को मजबूर हैं, राजधानी रांची में जिस्म के सौदागर ऑनलाइन सेक्स रैकेट चला रहे हैं। वो भी इतनी चोरी छिपे से किसी को कानों कान खबर तक ना लगे। लेकिन कहते हैं कि जुर्म की उम्र ज्यादा नहीं होती है। रांची पुलिस को मुखबिर के जरिए सूचना मिली और पुलिस ने छापेमारी कर गोरे जिस्म के काले कारोबार का पर्दाफाश कर दिया।

चिरौंदी के घर में पुलिस की रेड

रांची के बरियातू थाना क्षेत्र के चिरौंदी के एक घर में सेक्स रैकेट चल रहा था। पुलिस ने छापेमारी की तो उसके होश फाख्ता हो गए। बंद कमरे में 2 ग्राहक के साथ 2 लड़कियां आपत्तिजनक हालत में थी। बताया जा रहा है कि इनमें से 1 लड़की यूपी से ताल्लुक रखती हैं, जबकि एक का वास्ता बांग्लादेश से है। बांग्लादेश की जिस बाला को पुलिस ने हिरासत में लिया है उसकी वीजा अवधि भी खत्म हो चुकी है। यानी वो रांची में गैरकानूनी तरीके से रह रही थी। 

चतरा के हैं पकड़े गए दोनों ग्राहक

पुलिस की माने तो पकड़े गए दोनों ग्राहक चतरा के रहनेवाले हैं। बकौल पुलिस पूछताछ में दोनों ने बताया कि कैसे वो रांची के इस घर तक पहुंचे थे। पुलिस के मुताबिक दोनों लड़कों ने गूगल में रांची एस्कॉर्ट नाम से सर्च किया था जिसपर कई मोबाइल और व्हाट्सएप्प नंबर आए थे। दोनों ने जब उन नंबरों पर संपर्क किया तो फिर इन्हें रांची बुलाया गया। दोनों मौज मस्ती के ख्याल से चतरा से सैकड़ों किलोमीटर का सफर कर रांची आए भी लेकिन पुलिस के हाथों पकड़े गए। पूछताछ में दोनों ग्राहकों ने बताया कि अभी वो कमरे में दाखिल ही हुए थे कि पुलिस की रेड पड़ गई। मौके से पुलिस को कई आपत्तिजनक सामान भी मिले हैं जो इशारे करते हैं कि किराए के उस घर में काफी समय से गंदा धंधा चल रहा था।

रांची एस्कॉर्ट नाम से चलती थी वेबसाइट

जिस तरह से तमाम कारोबार हाईटेक होते जा रहे हैं। जिस्मफरोशी का ये धंधा भी उसी तरह से हाईटेक अंदाज में चल रहा था। पूछताछ में खुलासा हुआ है कि जिस्म के सौदागर रांची एस्कॉर्ट के नाम से एक वेबसाइट चला रहे थे जिस पर ग्राहक, लड़कियों से और संचालक से कॉन्टैक्ट करते थे। उसके बाद पैसे की डील होती थी और पैसा फाइनल होने के बाद ग्राहक की सहूलियत के मुताबिक कॉल गर्ल को उनके बताए पते पर भेज दिया जाता था या फिर ग्राहक को अपने ठिकाने पर बुला लिया जाता था। बताया जा रहा है कि ये धंधा काफी दिनों से फल फूल रहा था और काफी संख्या में इस धंधे से लड़कियां जुड़ी हुई हैं। 

स्कूल-कॉलेज की लड़कियां भी हैं शामिल

पुलिसिया सूत्रों की माने तो लड़कियों में स्कूल और कॉलेज गर्ल से लेकर देसी और विदेशी भी शामिल हैं। फिलहाल पुलिस इनसे पूछताछ के बाद गिरोह के मास्टरमाइंड तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। उन संचालकों की गिरफ्तारी भी करना चाहती है जो रेड के दौरान मौका देखकर फरार हो गए थे। पुलिस की माने तो बहुत जल्द सेक्स रैकेट के इस काले कारोबार को जड़ से खत्म कर दिया जाएगा। लेकिन सवाल ये भी है कि आखिर ये धंधा इतने दिनों से पुलिस की नाक के नीचे चल कैसे रहा था।





रिलेटेड पोस्ट

  • Covid-19 से मौत का खतरा 50% तक कम कर देती है विटामिन D: शोध
    दुनियाभर में कोरोना वारयस का संक्रमण जिस तेजी से बढ़ रहा है उसे देखने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन ने आगाह किया है कि यही रफ़्तार रहा कि कोरोना से होने वाली मौत का आंकड़ा 20 लाख तक जा सकता है. WHO की चेतावनी के बीच अमेरिका की बोस्टन यूनिवर्सिटी की रिसर्च में दावा किया गया है कि कोरोना वायरस के जिन मरीजों में पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी मौजूद होती है, उनकी मौत का खतरा 50 प्रतिशत तक कम हो जाता है.
  • आठ साल से भाई कर रहा था नाबालिग बहन का रेप, मां भी देती रही बेटे का साथ
    लखनऊ से एक सनसनीखेज मामला सामने आने के बाद लोगों के होश उड़ गए. यहाँ एक भाई अपनी नाबालिग बहन के साथ पिछले आठ साल से दुष्कर्म कर रहा था. माँ सबकुछ जानते हुए भी खामोश रही.