spot_img

Deoghar: लगातार चोरी की घटनाओं से चैम्बर और व्यवसायी आक्रोशित, पुलिस से जल्द कार्यवाई की मांग  

बार-बार देवघर में चोरी और छिनतई की घटनाओं से अब व्यापारियों में उबाल आ रहा है। चैम्बर द्वारा पुलिस प्रशासन द्वारा लगातार ऐसी घटनाओं पर लगाम लगाने की आरजू के बावजूद आपराधिक घटनाएं बढ़ रही है।

Deoghar: बार-बार देवघर में चोरी और छिनतई की घटनाओं से अब व्यापारियों में उबाल आ रहा है। चैम्बर द्वारा पुलिस प्रशासन द्वारा लगातार ऐसी घटनाओं पर लगाम लगाने की आरजू के बावजूद आपराधिक घटनाएं बढ़ रही है। अगर शीघ्र ही चोरी और छिनतई की घटना नियंत्रित नहीं होती है तो चैम्बर सड़कों पर आकर आक्रोश और आन्दोलन का रुख अख्तियार करेगी।

देवघर राज्य का अतिमहत्वपूर्ण धार्मिक पर्यटन स्थल है और यहां रोजाना हजारों यात्री आते हैं। ऐसे में स्थानीय लोगों के साथ ही बाहर के लोगों में आपराधिक दृष्टिकोण से यहां की छवि खराब हो रही है। यहां के व्यापारी भयाक्रांत है और असुरक्षित महसूस करते हैं। राज्य के उच्चधिकारियों तक इस विफलता को पहुंचाई जाएगी।

ये बातें संप चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष आलोक मल्लिक ने कही। दरअसल कल रात देवघर के मुख्य और व्यस्त मार्ग कोर्ट रोड में कनिष्का इंटरप्राइजेज में हुई चोरी की घटना से व्यापारी समूह उद्वेलित हो गए। नगर थाना और एसपी हाउस से निकट शहर के सबसे अहम मार्ग पर चोरी की घटना लचर पुलिसिंग को दर्शाती है। कल रात ही बम्पास टाउन में डॉ. विधु विबोध के यहां भी चोरी की घटना हुई है। इससे पहले सिर्फ एक सप्ताह पूर्व ही चैम्बर प्रतिनिधिमंडल ने जिले के एसपी से मिलकर इन घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए इसके रोकथाम के लिए पर्याप्त एक्शन लेने की मांग की थी।

चैम्बर के महासचिव प्रमोद छावछरिया ने कहा कि एक ही रात दो-दो बड़ी घटना पुलिस व्यवस्था का पोल खोलती है। चैम्बर सदस्यों का कहना है कि घटना छोटी हो या बड़ी, अपराध पर नियंत्रण और पुलिस का डर अपराधियों को होना चाहिए और यही बात पुलिस प्रदर्शित नहीं कर पा रही। रात की घटना से उद्वेलित हो आज कई व्यापारी कनिष्का इंटरप्राइजेज में जुटकर आक्रोश प्रदर्शित कर रहे थे। चैम्बर के उपाध्यक्ष संजय मालवीय और उमेश राजपाल ने कहा कि अब समय आ गया है कि पुलिस लगातार पेट्रोलिंग और अपराधियों पर दबिश बनाकर इन घटनाओं पर लगाम लगाए। आपराधिक प्रवृत्ति और दागी लोगों पर पुलिस दबाव बनाकर ऐसी घटनाओं की रोकथाम के लिए ठोस रणनीति बनाकर काम करे।

विरोध दर्ज़ करते चैम्बर के पदाधिकारी

घटना की जानकारी देते हुए कनिष्का इंटरप्राइजेज के मालिक कनिष्क कश्यप ने कहा कि रात में लगभग 11.30 बजे अपराधियों ने प्रतिष्ठान के दूसरे तल में एस्बेस्टस की छत और सीलिंग को काटकर ऊपर से दुकान में प्रवेश किया और लगभग 45 मिनट तक दुकान में घुम घुम कर कई मोबाइल और कुछ एलईडी ऊपर उसी काटे हुए रास्ते से निकालकर फरार हो गए। चोर ने उनके केबिन से कैश निकालने की भी असफल कोशिश की लेकिन लॉक नहीं तोड़ पाए। अभी स्टॉक का मिलान जारी है ताकि पता लग सके कि कितने के माल की चोरी हुई है। अब तक के आकलन से 6-7 लाख के सामानों की चोरी हुई है जो बढ़ भी सकती है। उधर इसी रात डॉ विधु विबोध के यहां भी लगभग 12 लाख के सामानों की चोरी हुई है।

चैम्बर ने स्थानीय पुलिस प्रशासन और एसपी से मांग किया है कि पीसीआर पेट्रोलिंग को ऐसी घटनाओं को रोकने में सख्त और जिम्मेदार बनाया जाय। सभी पीसीआर वैन में रोटेशन के आधार पर पुलिस बल प्रतिनियुक्त हों और उनके एरिया बार-बार बदलते रहना चाहिए। बाइक पेट्रोलिंग की व्यवस्था पर प्रशासन को गंभीरता दिखाना चाहिए और पुलिस का खौफ अपराधियों पर दिखना चाहिए। आपराधिक रिकॉर्ड वाले लोगों पर पुलिस की दबिश और नियंत्रण बढ़ाया जाय। चैम्बर ने मांग किया है कि कनिष्का इंटरप्राइजेज के सीसीटीवी में अपराधी की तस्वीर साफ दिख रही है, अतः दो दिनों के अंदर उसकी गिरफ्तारी कर सख्त सजा दिलाई जाय ताकि दूसरे अपराधी दुबारा वारदात करने से डरे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!