Global Statistics

All countries
242,936,033
Confirmed
Updated on Thursday, 21 October 2021, 5:56:52 pm IST 5:56 pm
All countries
218,467,675
Recovered
Updated on Thursday, 21 October 2021, 5:56:52 pm IST 5:56 pm
All countries
4,940,344
Deaths
Updated on Thursday, 21 October 2021, 5:56:52 pm IST 5:56 pm

Global Statistics

All countries
242,936,033
Confirmed
Updated on Thursday, 21 October 2021, 5:56:52 pm IST 5:56 pm
All countries
218,467,675
Recovered
Updated on Thursday, 21 October 2021, 5:56:52 pm IST 5:56 pm
All countries
4,940,344
Deaths
Updated on Thursday, 21 October 2021, 5:56:52 pm IST 5:56 pm
spot_imgspot_img

झारखंड में बढ़ रहा अपराध का ग्राफ और सरकार गहरी नींद में सोई हुई:बाबूलाल


रांची।

राज्य में महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार और गिरिडीह मामले में हाईकोर्ट की तल्ख टिप्पणी को लेकर भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा कि राज्य की यूपीए गठबंधन हेमंत सोरेन के नेतृत्व की सरकार में चोरी, डकैती, अपराध, हत्या, उग्रवाद, व दुष्कर्म की घटना में भारी बढ़ोतरी हुई है। सरकार गहरी निद्रा में सोई हुई है।

उन्होंने कहा कि, गठबंधन की सरकार भ्रष्टाचार और ट्रांसफर पोस्टिंग में मदमस्त है। अपराधियों को सरकार का सह मिला हुआ है। अपराधी और अपराध बेकाबू है। 

गिरिडीह मामले में दरोगा, डीएसपी को सस्पेंड करते हुए एसआईटी से जांच की मांग

बाबूलाल मरांडी ने गिरिडीह मामले में हाईकोर्ट के तल्ख टिप्पणी पर कहा कि मामले में भाजपा के जांच की मांग को राज्य सरकार ने दरकिनार कर दिया था। अब हाईकोर्ट की टिपण्णी ने सरकार के मंसूबे पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन आरोपियों को बचाने में लगी हुई है। थानेदार, डीएसपी को निलंबित करते हुए एक समय सीमा तय कर एसआईटी की जांच हो। परिवार को सरकारी नौकरी और सुरक्षा दिया जाए। 

मालूम हो कि 30 मार्च को गिरिडीह के राजधनवार थाना अंतर्गत 15 साल की नाबालिग को दुष्कर्म के बाद जिंदा जला देने की घटना सामने आई थी। जबकि पुलिस ने न ही आरोपियों को गिरफ्तार किया बल्कि समय पर स्वाब जांच के लिए भी नहीं भेजा। जो दुर्भाग्य जनक है। महिला सुरक्षा पर राज्य सरकार की कार्यशैली को दर्शाती है।

बढ़ते अपराध, बालात्कार पर राज्य के मुखिया जनता को जवाब दे:दीपक प्रकाश

भजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि राज्य की कानून व्यवस्था लचर हो गई है। जनवरी से जुलाई तक सात महीने में 161 दहेज हत्या, 16 डायन हत्या, व प्रत्येक दिन औसतन 5 दुष्कर्म की घटना, बढ़ते अपराध, उग्रवाद पर राज्य के मुखिया जनता को जवाब दे। राज्य सरकार सार्वजनिक रूप से माफी मांगे। साथ ही उन्होंने नाबालिग को जिंदा जला देने के मामले में कहा कि पुलिसिया जांच संदेह के घेरे में है। राज्य सरकार की कार्यशैली, नीति और नियत खराब है। राज्य की महिलाओं की सुरक्षा भगवान भरोसे है।

जबकि कांग्रेस झामुमो घटिया राजनीति के तहत यूपी मामले को तूल देने में लगी है। मुख्यमंत्री योगी ने मामले में सीबीआई जांच की अनुशंसा कर दिया है। जबकि राज्य में महिलाओं की स्थिति को लेकर हाईकोर्ट को संज्ञान लेना पड़ रहा है। जो कि दुर्भाग्यजनक है। 

गौरतलब हो कि राज्य की अपराध, उग्रवाद, और बढ़ते दुष्कर्म को लेकर विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी, प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने संवाददाता सम्मेलन कर राज्य के बढ़ते दुष्कर्म के ग्राफ को भी जारी किया।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!