Global Statistics

All countries
176,201,698
Confirmed
Updated on Saturday, 12 June 2021, 10:20:55 pm IST 10:20 pm
All countries
158,445,557
Recovered
Updated on Saturday, 12 June 2021, 10:20:55 pm IST 10:20 pm
All countries
3,803,117
Deaths
Updated on Saturday, 12 June 2021, 10:20:55 pm IST 10:20 pm

Global Statistics

All countries
176,201,698
Confirmed
Updated on Saturday, 12 June 2021, 10:20:55 pm IST 10:20 pm
All countries
158,445,557
Recovered
Updated on Saturday, 12 June 2021, 10:20:55 pm IST 10:20 pm
All countries
3,803,117
Deaths
Updated on Saturday, 12 June 2021, 10:20:55 pm IST 10:20 pm
spot_imgspot_img

झारखंड: ऑनलाइन ट्रेनिंग देने के लिए आठ हजार शिक्षक बनेंगे मास्टर ट्रेनर 

विज्ञापन:-

    त्रिदेव


रांची।

झारखण्ड राज्य के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को ऑनलाइन ट्रेनिंग देने के लिए आठ हजार शिक्षक मास्टर ट्रेनर बनाए जाएंगे। संकुल स्तर पर तीन-तीन और जिला स्तर पर चार-चार शिक्षकों का चयन किया जाएगा।  

जिला स्तर पर अंग्रेजी, गणित, विज्ञान और सामाजिक विज्ञान के एक-एक विषय विशेषज्ञ नोडल शिक्षक का चयन किया जाएगा। इसमें उन्हीं शिक्षकों का चयन होगा, जो डिजिटल फ्रेंडली होंगे। इन शिक्षकों को मोबाइल, टैब, लैपटॉप का उपयोग, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की जानकारी विशेष रूप से होनी चाहिए। 

   विज्ञापन:-

    astrologer

राज्य के 2630 संकुल के लिए 7890 शिक्षकों का और जिला स्तर पर 96 शिक्षकों का चयन किया जाएगा। जिला स्तर पर शिक्षक संकुल स्तर के नोडल शिक्षकों को सबसे पहले ट्रेंड करेंगे। उसके बाद संकुल स्तर के शिक्षक संकुल के अन्य शिक्षकों को ऑनलाइन प्रशिक्षित करेंगे। इसके जरिए राज्य में करीब आठ हजार मास्टर ट्रेनर तैयार हो जाएंगे जो राज्य के सभी शिक्षकों को प्रशिक्षित करेंगे। 

विभाग की ओर से सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी और जिला शिक्षा अधीक्षकों से जिला और संकुल बार शिक्षकों की सूची मांगी गयी है। जिलों को लिंक भी दिये गये हैं, जिसमें शिक्षकों की ऑनलाइन सूची अपलोड करनी है। 

आठ हजार शिक्षकों के मास्टर ट्रेनर बनने के बाद प्राथमिक से प्लस टू स्तर तक के 1.25 लाख शिक्षकों की ऑनलाइन ट्रेनिंग शुरू हो सकेगी। दीक्षा और निष्ठा के तहत सभी शिक्षकों को अनिवार्य रूप से प्रशिक्षण लेना होगा। इसमें ट्रेनिंग मॉड्यूल तय किए गए हैं। एक विषय में ट्रेनिंग पूरी करने और उसका सर्टिफिकेट मिलने के बाद ही दूसरे विषय में प्रशिक्षण ले सकेंगे। जेसीइआरटी ने ट्रेनिंग के छोटे-छोटे मॉडल तैयार किये हैं. इस ट्रेनिंग मॉड्यूल को दीक्षा पोर्टल पर अपलोड किया जा रहा है। 


विज्ञापन:-

नमन

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles