spot_img

सावधान! आ गया कोरोना का नया लक्षण, वैज्ञानिकों ने किया हैरान करने वाला दावा


नई दिल्ली।

कोरोना वायरस के नये लक्षण को लेकर वैज्ञानिकों ने हैरान करने वाला दावा किया है. जिससे सावधान होने कि जरूरत है। 

मौजूदा समय में कोरोना वायरस के तीन ही आधिकारिक लक्षण हैं- बुखार, खांसी और स्वाद या गंध की पहचान का जाना। इसमें से कोई भी लक्षण होने पर व्यक्ति को आइसोलेशन में रहने की सलाह दी जाती है और उनका टेस्ट कराया जाता है। लेकिन बच्चों को लेकर ब्रिटिश रिसर्चरों ने जो दावा किया है वो इन लक्षणों से अलग है. 

ब्रिटिश रिसर्चरों ने दावा किया है कि बच्चों में दस्त, उल्टी और पेट में ऐंठन- कोरोना वायरस के लक्षण हो सकते हैं। क्वींस यूनिवर्सिटी बेलफास्ट बच्चों पर अध्ययन कर रहा है और उसके मुताबिक जिन लक्षणों पर नजर रखी जा रही है, लेकिन इन लक्षणों को आधिकारिक लक्षण की सूची में जोड़ने पर विचार कर किया जा रहा है। इस अध्ययन में करीब एक हजार बच्चों को शामिल किया गया। 

मेडरेक्सि में पब्लिश इस स्टडी के मुताबिक, 992 बच्चों में 68 के शरीर में वायरस के एंटीबॉडीज देखने को मिले हैं। जिन बच्चों में एंटीबॉडीज पाया गया है उनमें से आधे को कोविड-19 के निर्धारित लक्षण भी देखने को मिले हैं। हालांकि इनमें से किसी भी बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराने की नौबत नहीं आई है। 

अमेरिकी सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल ने कोविड-19 के संभावित लक्षणों में जी मितलाना, उल्टी और दस्त आने को शामिल किया है। इससे पहले ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस ने कोरोना वायरस के तीन लक्षणों को चिन्हित किया हुआ है। इन लक्षणों का अंदाजा होते ही आपको सचेत होना है और तमाम एहितायात बरतने होंगे, जिसमें चिकित्सीय सलाह लेना भी शामिल है।

अमेरिकी सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन के मुताबिक ठंड लगना, कंपकंपी महसूस होना, मासंपेशियों में दर्द और गले में खराश होना भी कोरोना वायरस की चपेट में आने के संकेत हो सकते हैं।

माना जा रहा है कोरोना वायरस के लक्षण दिखना शुरु होने में औसतन पांच दिन का वक्त लग सकता है, लेकिन कुछ लोगों में ये वक्त कम भी हो सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, वायरस के शरीर में पहुंचने और लक्षण दिखने के बीच 14 दिनों तक का समय हो सकता है। 


गुरुकुल

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!