Global Statistics

All countries
244,458,918
Confirmed
Updated on Monday, 25 October 2021, 1:36:43 pm IST 1:36 pm
All countries
219,763,673
Recovered
Updated on Monday, 25 October 2021, 1:36:43 pm IST 1:36 pm
All countries
4,964,323
Deaths
Updated on Monday, 25 October 2021, 1:36:43 pm IST 1:36 pm

Global Statistics

All countries
244,458,918
Confirmed
Updated on Monday, 25 October 2021, 1:36:43 pm IST 1:36 pm
All countries
219,763,673
Recovered
Updated on Monday, 25 October 2021, 1:36:43 pm IST 1:36 pm
All countries
4,964,323
Deaths
Updated on Monday, 25 October 2021, 1:36:43 pm IST 1:36 pm
spot_imgspot_img

अपहृत युवक की लाश बरामद, अपहरणकर्ताओं ने फोन पर मांगी थी एक करोड़ फिरौती


देवघर।

जसीडीह थाना क्षेत्र के केनमनकाठी के समीप नदी के किनारे बालू से दबा हुआ एक युवक का शव बरामद किया गया। लाश देवघर के सलोनाटांड़ निवासी पप्पू चौधरी के पुत्र राहुल कुमार चौधरी की बरामद की गयी जो तीन दिनों से गायब था। जिसके अपहरण होने और अपहरणकर्ताओं द्वारा फिरौती मांगने की सूचना परिजनों ने पुलिस को दी थी। लेकिन, इससे पहले की पुलिस राहुल तक पहुंच पाती उसकी लाश नदी किनारे से बरामद की गई।

परिजनों ने बताया कि राहुल तीन दिन पहले अपने घर से निकला था। लेकिन फिर घर वापस नहीं आया। परिजनों ने तलाश की, इसके मित्रों को फोन किया । लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। ऐसे में तलाश चल ही रही थी कि अपहरणकर्ताओं का फोन आ गया और एक करोड़ रुपए की फिरौती मांगी गई, जिसके लिए एक दिन का समय भी दिया गया। लेकिन परिजन इतनी बड़ी रकम देने में सक्षम नहीं थे। लिहाजा कुछ समय मांगा गया। दूसरे दिन फिर अपहरणकर्ताओं ने फिरौती के लिए फोन किया और फिर परिजनों ने इतनी बड़ी रकम देने में खुद को सक्षम नहीं बताया जिसके बाद अपहरणकर्ताओं ने इनके पुत्र को मार देने की धमकी दी। उसके बाद देर रात देवघर नगर थाना पुलिस और जसीडीह थाना पुलिस ने सूचना के आधार पर जसीडीह थाना के केनमनकाठी के पास नदी के किनारे बालू में दबा हुआ राहुल कुमार चौधरी का शव बरामद किया।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर देवघर सदर अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इधर, परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। घटना के बाद अस्पताल में लोगों की काफी भीड़ इकट्ठा हो गयी।

मृतक राहुल कुमार चौधरी के पिता पप्पू चौधरी की मानें तो तीन दिन पहले इसका अपहरण हुआ था और लगातार फिरौती के लिए फोन आ रहा था। जिसमें गाली गलौज से बातें की जा रही थी। मृतक के पिता का आरोप है कि अपने समधी के साथ बेटी को लेकर कुछ विवाद चल रहा था। समधी ने इनको धमकी दी थी कि अगर मेरी बेटी का जीवन सही नहीं रहा तो तुम्हारा बेटा भी नहीं रहेगा । उन्होंने कहा कि समधी ने ही उनके बेटे की हत्या करा दी है।

हालांकि, पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है। तमाम बिंदुओं पर जांच-पड़ताल की जा रही है।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!