Global Statistics

All countries
178,602,064
Confirmed
Updated on Saturday, 19 June 2021, 10:22:37 am IST 10:22 am
All countries
161,402,415
Recovered
Updated on Saturday, 19 June 2021, 10:22:37 am IST 10:22 am
All countries
3,866,932
Deaths
Updated on Saturday, 19 June 2021, 10:22:37 am IST 10:22 am

Global Statistics

All countries
178,602,064
Confirmed
Updated on Saturday, 19 June 2021, 10:22:37 am IST 10:22 am
All countries
161,402,415
Recovered
Updated on Saturday, 19 June 2021, 10:22:37 am IST 10:22 am
All countries
3,866,932
Deaths
Updated on Saturday, 19 June 2021, 10:22:37 am IST 10:22 am
spot_imgspot_img

JBVNL ने क्रिस्टल केबल इंडस्ट्रीज को किया ब्लैक लिस्टेड

बीकानेर


रांची। 

झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड की ओर से क्रिस्टल केबल इंडस्ट्रीज को ब्लैक लिस्टेड किया गया है. एजेंसी पिछले तीन साल से राज्य में वायर आपूर्ति कर रही थी. एजेंसी को ब्लैक लिस्टेड काम में लापरवाही और अनियमितता बरतने के आरोप में किया गया है. ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत आपूर्ति के लिये कंपनी को यह दायित्व दिया गया है. नंवबर 2017 को एजेंसी को वर्क ऑर्डर दिया गया था.

वहीं अब इस मामले में जेबीवीएनएल की ओर से 31 जुलाई को एक आदेश जारी किया गया. जिसमें आने वाले तीन सालों के लिये एजेंसी को ब्लैक लिस्टेड करने की बात की गयी है. जारी आदेश एजेंसी के नाम लिखा गया है. जिसमें टेंडर के शर्तों के मुताबिक वायर सप्लाई नहीं करने की बात की गयी है.

जेबीवीएनएल के जीएम सेल एंड परर्चेस की ओर से यह आदेश जारी किया गया है. टेंडर के मुताबिक हर महीने 135 किलोमीटर वायर सप्लाई करना था. वर्क ऑर्डर मिलने के बाद पहले महीने कंपनी ने एक भी वायर सप्लाई नहीं किया. दूसरे महीने कंपनी की ओर से 60 किलोमीटर वायर की सप्लाई की गयी. तीसरे महीने 50 किलोमीटर और चौथे महीने 25 किलोमीटर वायर सप्लाई की गयी. कंपनी ने चार महीने में 135 किलोमीटर वायर आपूर्ति की. जबकि इसे हर महीने इतना आपूर्ति किया जाना था.

जेबीवीएनएल को एजेंसी वायर सप्लाई दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना के तहत करती थी. जो केंद्र प्रायोजित योजना है. साथ ही राज्य में इसके तहत पिछले कुछ सालों से ग्रामीण विद्युतिकरण पर बल दिया जा रहा है. पत्र में लिखा है कि एजेंसी ऑर्डर पूरा करने में पूरी तरह विफल रही. कई बार इस मामले में एजेंसी को रिमाइंडर भेजा गया. लेकिन कभी भी एजेंसी की ओर से सकारात्मक जवाब नहीं दिया गया.

जिक्र है कि एजेंसी ने टेंडर के मुताबिक आपूर्ति नहीं करते हुए अचारणहीन व्यवहार किया है. इन बातों के साथ जेबीवीएनएल की ओर से कंपनी परचेज ऑर्डर कैंसल किया गया. साथ ही कंपनी को तीन साल के लिए ब्लैक लिस्टेड किया गया. कंपनी कलकत्ता की है. गौरतलब है कि मुख्यालय स्तर से सेल एडं परचेज संबधी जानकारी मुख्यालय स्तर पर रखी जाती है. वहीं इनका स्टोरेज क्षेत्री कार्यालयों में किया जाता है.


नमन

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles