Global Statistics

All countries
195,980,203
Confirmed
Updated on Wednesday, 28 July 2021, 8:22:53 am IST 8:22 am
All countries
175,935,883
Recovered
Updated on Wednesday, 28 July 2021, 8:22:53 am IST 8:22 am
All countries
4,192,978
Deaths
Updated on Wednesday, 28 July 2021, 8:22:53 am IST 8:22 am

Global Statistics

All countries
195,980,203
Confirmed
Updated on Wednesday, 28 July 2021, 8:22:53 am IST 8:22 am
All countries
175,935,883
Recovered
Updated on Wednesday, 28 July 2021, 8:22:53 am IST 8:22 am
All countries
4,192,978
Deaths
Updated on Wednesday, 28 July 2021, 8:22:53 am IST 8:22 am
spot_imgspot_img

लोकतंत्र की हत्या कर रही हेमंत सरकार: दीपक प्रकाश

बीकानेर


रांची।

झारखण्ड प्रदेश भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश के नेतृत्व में राजभवन जाकर महामहिम राज्यपाल से मुलाकात की और एक ज्ञापन सौंपा। प्रतिनिधिमंडल में पार्टी के प्रदेश महामंत्री आदित्य साहू एवम डॉ प्रदीप वर्मा भी शामिल थे।

लोकतंत्र की हत्या कर रही हेमंत सरकार:दीपक प्रकाश

प्रदेश अध्यक्ष व सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि हेमंत सरकार लोकतंत्र की हत्या कर रही है। नेता प्रतिपक्ष की घोषणा को लेकर सरकार की मंशा ठीक नही है। मुख्यमंत्री प्रतिपक्ष के नेता के बिना ही विधानसभा का संचालन चाहते हैं। मुख्यमंत्री के बयानों में कई बार उनकी यह मंशा उजागर हो चुकी है। और ऐसा लगता है कि सरकार के इशारे पर विधानसभा अध्यक्ष भी नेता प्रतिपक्ष की घोषणा नही कर रहे।

राज्यपाल से हस्तक्षेप की गुहार

दीपक प्रकाश ने राज्यपाल महोदया से इस संदर्भ में हस्तक्षेप की गुहार लगाते हुए कहा कि बाबूलाल मरांडी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने वाली झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) का 11 फरवरी 2020 को भारतीय जनता पार्टी में विधिवत विलय हो चुका है। 06 मार्च 2020 को चुनाव आयोग ने इस विलय की मान्यता प्रदान कर दी है। राज्य सभा चुनाव की वोटिंग में चुनाव आयोग ने बाबुलाल मरांडी को भाजपा विधायक के रूप में मान्यता प्रदान की, जबकि विलय के पूर्व जेवीएम से पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण निष्कासित दो विधायको प्रदीप यादव और बंधु तिर्की द्वारा जेवीएम का कांग्रेस में विलय को चुनाव आयोग ने अमान्य कर दिया। पार्टी के कंघी सिंबल को भी फ्रिज कर दिया गया है।

दीपक प्रकाश ने कहा कि भाजपा ने बार-बार इन सारी बातों की लिखित जानकारी विधानसभा अध्यक्ष को दी है। उन्होंने कहा कि आज सदन में पार्टी के 26 विधायक हैं। विधानसभा में 32 प्रतिशत सदस्यों के साथ भाजपा विपक्ष की सबसे बड़ी पार्टी है। परंतु नेता प्रतिपक्ष की सभी अर्हताओं को पूरा करने के बाद भी विधानसभा अध्यक्ष के द्वारा नेता प्रतिपक्ष की घोषणा नही की जा रही। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लोकतंत्र की परंपरा और मर्यादाओं का सत्ता पक्ष द्वारा मखौल उड़ाया जा रहा। इसलिये  पार्टी राज्य के संवैधानिक प्रधान के पास निवेदन करने आई है। लोकतंत्र को बचाने के लिये हस्तक्षेप की आवश्यकता है।

दीपक प्रकाश ने राज्यपाल से अनुरोध करते हुए कहा कि बाबुलाल मरांडी को अविलंब नेता प्रतिपक्ष घोषित करते हुए उन्हें सभी संवैधानिक सुबिधा उपलब्ध कराने हेतु आवश्यक निर्देश देने की कृपा की जाए।


नमन

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!