Global Statistics

All countries
176,107,846
Confirmed
Updated on Saturday, 12 June 2021, 6:19:33 pm IST 6:19 pm
All countries
158,314,804
Recovered
Updated on Saturday, 12 June 2021, 6:19:33 pm IST 6:19 pm
All countries
3,802,195
Deaths
Updated on Saturday, 12 June 2021, 6:19:33 pm IST 6:19 pm

Global Statistics

All countries
176,107,846
Confirmed
Updated on Saturday, 12 June 2021, 6:19:33 pm IST 6:19 pm
All countries
158,314,804
Recovered
Updated on Saturday, 12 June 2021, 6:19:33 pm IST 6:19 pm
All countries
3,802,195
Deaths
Updated on Saturday, 12 June 2021, 6:19:33 pm IST 6:19 pm
spot_imgspot_img

इस देश में कोरोना का अजीब खौफ, माइक्रो ओवन में जला डाले खरबों डॉलर

बीकानेर


नई दिल्ली। 

कोरोना महामारी से इस समय पूरी दुनिया जूझ रही है और अपने संसाधनों का इस्तेमाल कर इस महामारी से निपटने का काम कर रही है. लेकिन दुनिया में एक देश ऐसा भी है जहाँ लोगों के बीच कोरोना का काफी ज्यादा खौफ है. वहां के लोग कोरोना वायरस से इतना डर गए हैं कि उन्होंने 2.25 ट्रिलियन डॉलर मूल्य के नोट और सिक्के जला डाले हैं. 

नोटों और सिक्कों को धो या जला डाला 

दक्षिण कोरिया में कोरोना से लोग इतने डर गये हैं कि नोटों और सिक्कों को धो या जला रहे हैं. कोरोना वायरस फैलने के डर से लोगों ने इस मूल्यवान वस्तु को या तो वॉशिंग मशीन में धो डाला या फिर माइक्रोवेव और ओवन में जला डाला. दक्षिण कोरिया के रिजर्व बैंक ने इस बात की जानकारी दी और कहा कि लोगों की इस हरकत की वजह से बैंक को खरबों डॉलर के नोट से जूझना पड़ रहा है. 

जले हुए नोटों को बदलने में आई तेजी

दक्षिण कोरिया के रिजर्व बैंक यानि के बैंक ऑफ कोरिया ने शुक्रवार को जानकारी देते हुए बताया कि पिछले छह महीने में पिछले साल की तुलना में लोगों ने तीन गुना ज्यादा जले हुए नोट बदलें हैं. इस वर्ष जनवरी से जून के बीच में 1.32 अरब वान यानि कि 1.1 अरब डॉलर जले हुए नोट बैंक ऑफ कोरिया को लौटाए गए हैं.बैंक का कहना है कि जले हुए नोटों को बदलने में आई तेजी के पीछे सबसे बड़ा कारण कोरोना वायरस का खौफ है. बैंक ऑफ कोरिया की माने तो इस साल ओवन में नोट जलाने के मामले सबसे ज्यादा आए हैं. 

बात करें पिछले साल कि तो इसी अवधि में इन नोटों का मूल्य 40 लाख डॉलर था। इस साल कोरोना वायरस की वजह से लोगों के मन में डर बैठ गया है और वो नोटों को या तो जला रहे हैं या धो रहे हैं. बैंक ने बताया कि साल 2020 के पहले छह महीने में 2.69 ट्रिलियन वान या 2.25 ट्रिलियन डॉलर मूल्य के कटे-फटे और जले हुए नोट और सिक्के मिले .


ऑनलाइन

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles