Global Statistics

All countries
263,605,290
Confirmed
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
All countries
236,154,041
Recovered
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
All countries
5,239,758
Deaths
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am

Global Statistics

All countries
263,605,290
Confirmed
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
All countries
236,154,041
Recovered
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
All countries
5,239,758
Deaths
Updated on Thursday, 2 December 2021, 2:55:17 am IST 2:55 am
spot_imgspot_img

लॉकडाउन में कोरोना योद्धा बनी किन्नर रोज़ सिंह,ज़रूरतमन्दों तक पहुंचाई मदद


देवघर।

लॉकडाउन के दरम्यान गरीबों, असहायों और ज़रुरतमंदों तक राशन पहुंचाने व हर अति आवश्यक वस्तुओं को उपलब्ध कराने में देवघर प्रशासन के अलावा विभिन्न संस्थानों और समाजसेवियों ने अपनी भागीदारी निभाई है, और ये सिलसिला लगातार जारी है। इन सबके बीच ज़रुरतमंदों तक हर सुविधा एक किन्नर भी पहुंचा रही है।

कोरोना वॉरियर्स के रूप देवघर में किन्नर रोज सिंह कार्य कर रही हैं। सिर्फ इंसानों ही नहीं पशुओं तक भी भोजन पहुंचाने का काम रोज सिंह द्वारा किया जा रहा है। किन्नर रोज सिंह द्वारा किये जा रहे इस सराहनीय कार्य के लिए आरएसएस की शाखा राष्ट्रीय गौ रक्षा वाहिनी के प्रदेश उपाध्यक्ष ऋतुराज ने उन्हें सम्मानित किया है। ऋतुराज ने किन्नर महासभा की रोज सिंह को कोरोना वॉरियर्स का प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

इस मौके पर ऋतुराज ने कहा कि प्रस्तुति पत्र देकर सम्मानित करने मुख्य उद्देश्य कोरोना वॉरियर्स की हौसला अफजाई करनी है। जो कार्य किन्नर रोज़ सिंह ने लॉकडाउन के दरम्यान ज़रुरतमंदों के लिए किया है, वो वाक़ई सराहनीय है। जिसके लिए आज इन्हें भी आरएसएस की शाखा राष्ट्रीय गौ रक्षा वाहिनी की ओर से सम्मानित किया जा रहा है।

वहीं, प्रशस्ति पत्र मिलने पर किन्नर रोज़ सिंह ने कहा कि मुश्किल की घड़ी में हमें हमेशा दूसरों के साथ खड़े रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि ये ज़रूरी नहीं है कि हम क्या हैं, ज़रूरी ये है कि अगर हम सक्षम हैं और सामने वाला भूखा है तो उसे एक वक्त का ही सही लेकिन उस तक निवाला ज़रूर पहुंचाए। उन्होंने कहा कि इस तरह के पत्र मिलने से हौसला बढ़ता है। आगे और बेहतर करने की इक्षाशक्ति मज़बूत होती है।

रोज़ सिंह ने कहा कि जिन्होंने हमें अपने दरवाजे से कभी खाली नहीं लौटाया, आज जब उनपर मुसीबत पड़ी है तो हम उन्हें भूखा कैसे छोड़ देंगे। 

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!