spot_img

कुष्ठ के विरूद्ध आखरी युद्ध, वृहत रूप से करें जागरूकता अभियान का आयोजनः उपायुक्त 

brewbakes

देवघर।

देवघर उपायुक्त नैंसी सहाय की अध्यक्षता में समाहरणालय सभगार में स्पर्श कुष्ठ जागरूक्ता अभियान के सफल क्रियान्वयन को लेकर जिला समन्वय समिति की बैठक आयोजित की गई।

इस दौरान उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को जागरूकता अभियान को लेकर आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया। इसके अलावा उन्होंने जानकारी दी कि दिनांक- 30 जनवरी से 13 फरवरी तक स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान को वृहत रूप से जिला स्तर से लेकर पंचयात स्तर तक चलाया जाना हैं। 
समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निदेशित किया कि स्पर्श कुष्ठ उन्मुलन अभियान से जुड़ी सारी तैयारियां ससमय दुरूस्त कर लें। इसके अलावे उन्होंने जिला शिक्षा अधीक्षक को निदेशित किया कि अपने स्तर से जिले के सभी विद्यालयों में छात्र/छात्राओं को कुष्ठ उन्मुलन को लेकर विभिन्न गतिविधियों यथा- नाटक, निबंध लेखन, बाल संसद में चर्चा आदि का आयोजन कराया जाय साथ ही बच्चों के माध्यम से उनके अभिभावक को भी स्पर्श कुष्ठ को लेकर फैली भ्रांतियां को प्रति जागरूक करने का प्रयास किया जाय।

त्रिदेव

बैठक के दौरान उपायुक्त ने जिला पंचायती राज पदाधिकारी को निदेशित किया कि स्पर्श कुष्ठ उन्मुलन को लेकर ग्राम स्तर, पंचयात स्तर पर आम सभा का आयोजन करवाया जाय ताकि समाज के अंतिम व्यक्ति को भी कुष्ठ के भ्रांतियों के प्रति जागरूक किया जा सके। योजना के व्यापक प्रचार-प्रसार को लेकर उपायुक्त ने जिला जनसंपर्क पदाधिकारी को निदेश दिया कि एल०ई०डी० वैन, डिस्प्ले बोर्ड, नुक्कड़ नाटक एवं दैनिक समाचार के माध्यम से कुष्ठ बीमारी को लेकर फैली भ्रांतियां, इसके लक्षण, उपचार आदि का व्यापक प्रचार-प्रसार ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में कराये। साथ ही जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को निदेशित किया कि सभी आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से भी कुष्ठ उन्मुलन का व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाय एवं लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया जाय।
योजना के सफल क्रियान्वन को लेकर उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निदेशित किया कि स्पर्श जागरूक्ता अभियान के दौरान वैसे लोग जिनका उचित इलाज हो चुका एव कुष्ठ से मुक्त हो चुके है वैसे लोगो के सक्सेस स्टोरी से लोगो को अवगत करायें, ताकि समाज में फैली भ्रांतियों को दुर किया जा सके। 

कुष्ठ रोग से प्रभावित व्यक्तियों से जुड़ें भेदभाव को समाप्त करने व समाज की मुख्य धारा में लाने के लिए दे अपना पूर्ण योगदान

बैठक के दौरान उपायुक्त नैन्सी सहाय ने संबंधित सभी विभागों को निदेश दिया कि आपसी समन्वय स्थापित करते हुए अपनी जिम्मेदारी के साथ अभियान को सफल बनायें एवं पूरे जिला अंतर्गत कुष्ठ से ग्रसित लोगो को चिन्हित कर उनका उचित उपचार कराते हुए जिले को कुष्ठ बीमारी से मुक्त बनाने का सफल प्रयास करें। 
बैठक के पश्चात उपायुक्त नैन्सी सहाय ने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा कि देवघर जिला को कुष्ठ बीमारी से मुक्त बनाने के अभियान में आप सभी का सहयोग आपेक्षित है। अभियान को सफल बनाने के लिए हम सभी को संकल्प लेना होगा कि हम व्यक्तिगत एवं सामूहिक रूप से कुष्ट रोग से प्रभावित व्यक्तियों से जुड़ें भेदभाव को समाप्त करने व समाज की मुख्य धारा में लाने के लिए अपना पूर्ण योगदान देंगे। इसके अलावे उन्होंने कहा कि बीमारी से होने वाले सबंधित लक्षणों को छुपाए नही इसका निःशुल्क उपचार अपने नजदीकी सरकारी अस्पतालों में करवायें। 

बैठक में उपरोक्त के अलावे सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रवि कुमार, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी अनिता कुजूर एवं संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित थे।    

गुरुकुल

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!