spot_img

देवघर में उद्योग को विकसित करने के लिए उद्योग सचिव ने की बैठक 


देवघर।

उद्योग विभाग सचिव के0 रवि कुमार और उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा द्वारा देवघर परिसदन में जिले के उद्योग को और विकसित करने व चल रहे कार्यों के लिए टीएफएम की बैठक आहूत की गई। 

बैठक के दौरान उद्योग सचिव ने कहा कि नयी उद्योग नीति में किये गए विभिन्न प्रावधानों और सुविधाओं को लेकर देवघर जिला अंतर्गत औद्योगिक विकास को गति देने के लिए सरकार द्वारा लगातार कार्य किया जा रहा है। इस दिशा में देवघर जिला अंतर्गत उद्योग विस्तार को लेकर आने वाले समय में बड़े निवेशक कल-करखाना स्थापित करेंगे। जिससे जिले के लोगों को रोजगार के नए अवसर मिल पायेंगे। इसके अलावे उद्योग को बढ़वा देने संबंधी चर्चाओं के साथ विभिन्न मुद्दो पर विस्तृत चर्चा की गयी।  

 इस दौरान उन्होंने उद्योगपतियों को हो रही समस्याओं के बारे में विस्तृत चर्चा की। साथ हीं जसीडीह औद्योगिक क्षेत्र में वाॅटर ड्रेनेज सिस्टम को जल्द हीं तैयार कर लेने की बात कही। इसके अलावे इस क्षेत्र में पुलिस पिकेट बनाने पर भी सहमति दी गयी। इसके अलावे देवीपुर औद्योगिक क्षेत्र अंतर्गत विधि-व्यवस्था को और भी दुरूस्त करने की बात कही गयी। बैठक के दौरान उन्होंने सभी उद्योगपतियों को आश्वस्त किया कि स्थानीय स्तर पर निराकृत हो सकने वाली समस्याओं का उपायुक्त स्तर से यहीं निराकरण किया जाएगा। बैठक में बैंकों द्वारा उद्योगपतियों को दिये जाने वाले ऋण पर भी चर्चा की गयी। इस दौरान उन्होंने स्टेट बैंक के एलडीएम को निदेशित किया कि वैसे उद्योगपतियों को ऋण दिया जाय, जो कि सरकार के नियमावली के अनुकूल सारे मापदण्ड को पूरा करते है।  

इस दौरान उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा द्वारा बतलाया कि देवघर जिला अंतर्गत संबंधित अधिकारियों द्वारा उद्यमी के साथ लगातार बैठक कर उनकी समस्याओं का समाधान भी किया जा रहा है। इसके अलावे पूर्व से किये जा रहे कार्य पूर्ण होने के पश्चात यहां के लोगों को रोजगार के नये अवसर प्राप्त होंगे। साथ हीं प्रयास किया जा रहा है लोगों को ज्यादा से ज्यादा रोेजगार के अवसर अपने जिले से हीं प्राप्त हो।

सचिव द्वारा संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया गया  कि उद्योग से जुड़े लोगों को प्रशिक्षण आदि दिया जाय, ताकि इससे जुड़े लोगों की आर्थिक स्थिति में सुधार के साथ-साथ अधिक से अधिक लोगो को स्वरोजगार से जोड़ा जा सके। इसके अलावे जिला अंतर्गत चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा तथा आधारभूत संरचनाओं के निर्माण, उनका जियो टैगिंग आदि कार्यों को कराने हेतु संबंधित पदाधिकारियों को निदेशित किया, उद्योग विभाग सचिव द्वारा स्पाईडा के माध्यम से नये उद्योगो को लगाने हेतु आवंटित हुए तथा इसमें आने वाली अड़चनों का समाधान करने हेतु (JIADA) उपनिदेशक को निदेशित किया गया। 

बैठक मेें उपरोक्त के अलावे जियाडा के उपनिदेशक अनिलसन लकड़ा, महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र सैमरोम बारला, भारतीय स्टेट बैंक के एलडीएम आरएसके सिन्हा व संबंधित विभाग के सभी अधिकारी व उद्योगपति आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!