spot_img

जब बात शहीदों के सम्मान की हो तब भला ये कहां पीछे रहने वाले थे

Reported by:मनीष सिंह  [Edited by:शबिस्ता आज़ाद ]

देवघर।

पुलवामा हमले के बाद देश में जगह-जगह पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी हो रही है. हमले का बदला लेने की मांग उठ रही है. शहीद जवानों के लिए विभिन्न राजनीतिक पार्टिया और संस्थाओं द्वारा कैंडल मार्च और शोकसभा आयोजित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है. लेकिन, देवघर में कालीरखा कुष्ठाश्रम में रहने वाले लोगों ने जो सच्ची श्रद्धांजलि शहीदों को दी है उनके जज्बे को सलाम…

दरसअल, यहां के रहने वाले लोगों ने पांच हजार रूपये शहीद के परिवारों के लिए जमा किया है. लेकिन आपको जानकर हैरत होगी कि ये रूपये इन सभी ने भीख मांगकर जमा किये हैं. जिनके घर में खुद दूसरे वक्त का चुल्हा जल पायेगा या नहीं इसकी जानकारी न हो उसने देश के लिए जान कुर्बान करने वालों के परिवार के लिए जो मदद करने की कोशिश की है वह वाकई काबिले तारीफ है.

भीख मांग कर गुजर बसर करने वाले कुष्ठाश्रम में रह रहे तकरीबन डेढ़ सौ भिखारियों ने शहीदों के सम्मान और आर्थिक मदद के लिए हाथ बढ़ाए हैं. हर दिन भीख मांग-मांग कर इन सभी ने 5000 रूपये जमा किये और पहुंचे सौपने उपायुक्त के पास. ये कहते हुए कि साहब ये रकम छोटी तो बहुत है लेकिन शायद उनके काम आ जाये।

 यहां बात सिर्फ 5000 रूपये कि नहीं बल्कि देश भक्ति के इस जज्बे की है, जो इन्होंने दिखाया है. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!