spot_img

मधुपुर में लगातार बढ़ रहे अपराध पर अंकुश लगाने में पुलिस विफल

Reported by: एजाज़ अहमद 

मधुपुर/देवघर।

मधुपुर में बढ़ रहे लगातार अपराध ने पुलिस का जीना मुहाल कर दिया है. लूट, हत्या, अपहरण जैसी वारदात पर पुलिस अंकुश लगाने में विफल साबित हो रही है. एक के बाद एक लूट की घटना को अंजाम देकर अपराधी बेखौफ घूम रहे हैं.

वहीं, अपराधियों द्वारा व्यवसायी वर्ग, सीएसपी, बैंक, पेट्रोल पंपों जैसे प्रतिष्ठानों का रैकी किया जा रहा है. सूत्रों की माने तो देवघर जिला से सटे सीमावर्ती इलाकों के अपराधियों का गैंग लोकल गैंग की मदद से घटना को अंजाम दे रहें हैं. गत 27 दिसंबर को मधुपुर थाना क्षेत्र के नैयाडीह धमनी गांव में व्यवसायी मोफीज आलम की हत्या हथियारबंद दो अपराधियों द्वारा दिनदहाड़े कर दिया गया. घटना से कुछ ही घंटों पूर्व इसी थाना क्षेत्र के मचुआटांड़ पुल के पास दो बाईक सवार पांच अपराधियों ने पिस्टल के नोक पर 1.30 लाख रूपये नगद सीएसपी संचालक से लूट लिया.

इधर पुलिस घटना का उद्भेदन भी नहीं कर पायी थी कि 13 फरवरी को मारगोमुंडा के खरजोरी गांव स्थित इलाहाबाद बैंक सीएसपी से हथियारबंद दो बाइक में सवार पांच अपराधियों ने 2 लाख 95 हजार रूपये नगद समेत दो मोबाइल, सीम व एक लैपटाॅप लूटकर फरार हो गया. यह कोई आम बात नहीं इससे पूर्व भी मारगोमुंडा थाना क्षेत्र में कई बार बार लूट, हत्या जैसे वारदात को अपराधियों ने अंजाम दिया है. जबकि मधुपुर अनुमंडल पुलिस व संबंधित थाना घटित अपराध में जुड़े अपराधियों तक पहुंचने में विफल रही है. इन सभी घटनाओं में अपराधियों ने बजाज पल्सर, टीवीएस अपाची बाईक जैसे 200 से 220 सीसी के बाईक का इस्तेमाल करते हैं. पुलिस को चकमा देकर भागने में उक्त बाईक अपराधियों के लिए कारगर साबित हो रही है. 

व्यवसायी वर्गों में भय का माहौल: 

लगातार हो रहे लूट-हत्या जैसे वारदात से मधुपुर समेत आसपास के व्यवसायियों में भय का माहौल देखा जा रहा है. व्यवसायियों समेत आम जनों का कहना है कि देवघर जिला में अपराध का ग्राफ काफी तेजी से बढ़ रहा है. वहीं पुलिस इस पर अंकुश लगाने में विफल साबित हो रही है. मधुपुर व्यवसायियों ने संताल परगना के डीआइजी से अपराध पर लगाम लगाने की मांग की है. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!