spot_img

काला झंडा दिखाने जा रहे पारा शिक्षकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार,चार घंटे बाद छोड़ा

Reported by:शिव कुमार यादव 

सारठ/देवघर।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत देवघर जिले के सारवां प्रखंड मुख्यालय में शुक्रवार को आयोजित मुख्यमंत्री रघुवर दास के जन चौपाल कार्यक्रम में काला झंडा दिखाने जा रहे सारठ प्रखंड के 200 पारा शिक्षकों को सारठ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। वहीं करीब चार घंटे के बाद निजी मुचलके पर सभी पारा शिक्षकों को छोड़ भी दिया गया।

झारखंड एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के आह्वान पर प्रखंड क्षेत्र के 200 पारा शिक्षक काले झंडे के साथ मोटरसाईकिल जुलूस निकालकर नारेबाजी करते हुए सारवां जाने की तैयारी में थे। तभी सभी को पुलिस ने थाना गेट के पास ही गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार पारा शिक्षकों ने थाने में भी मुख्यमंत्री मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए आंदोलन को और उग्र करने की चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक सरकार हम पारा शिक्षकों के वाजिब मांगों को पूरा नहीं करेगी तब तक आंदोलन जारी रहेगा और रघुवर सरकार के हर सभा का विरोध करते हुए उन्हें काला झंडा दिखाया जायेगा।

प्रखंड अध्यक्ष शशिकांत मिश्रा ने कहा कि हम पारा शिक्षक सरकार के किसी भी दबाव के आगे झुकने वाले नहीं हैं। कई पारा शिक्षकों ने कहा कि हमारे मौलिक अधिकारों का हनन करके रघुवर दास दोबारा सत्ता में नहीं आ सकती है। गिरफ्तारी देने वालों में सुनील यादव, प्रकाश कापरी, रोहीत सिंह, अशोक मिश्रा, मुन्नी झा, आशा कुमारी, बबीता कुमारी, रमेश तुरी, उशा झा, मजहर हुसैन, मनोरथ भोक्ता, राजेन्द्र टुडू, परिमल मरांडी, जनार्दन यादव समेत सैकड़ों पारा शिक्षक मौजूद थे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!