Global Statistics

All countries
264,373,561
Confirmed
Updated on Friday, 3 December 2021, 5:07:07 am IST 5:07 am
All countries
236,660,201
Recovered
Updated on Friday, 3 December 2021, 5:07:07 am IST 5:07 am
All countries
5,248,747
Deaths
Updated on Friday, 3 December 2021, 5:07:07 am IST 5:07 am

Global Statistics

All countries
264,373,561
Confirmed
Updated on Friday, 3 December 2021, 5:07:07 am IST 5:07 am
All countries
236,660,201
Recovered
Updated on Friday, 3 December 2021, 5:07:07 am IST 5:07 am
All countries
5,248,747
Deaths
Updated on Friday, 3 December 2021, 5:07:07 am IST 5:07 am
spot_imgspot_img

डढ़वा नदी के वजूद को बचाने की सांसद की पहल,साबरमती की तर्ज पर बनेगा डढ़वा रिवर फ्रंट

Edited by:शबिस्ता आज़ाद 

देवघर।

डढ़वा नदी के वजूद को बचाने की कवायद शुरू की गयी है. जिसकी पहल गोड्डा लोकसभा सांसद डाॅ0 निशिकांत दूबे ने की है. 

अपने वजूद को बचाने का इंतजार कर रही देवघर नगर निगम के बीचों बीच बहने वाली डढ़वा नदी को साबरमती रिवर फ्रंट की तर्ज पर डेवलप करने का प्रस्ताव सांसद निशिकांत दूबे ने दिया है. डढ़वा नदी में फिर से जान डालने और देवघर में एक बेहतरीन पार्क बनाने को लेकर गुरूवार को सांसद डाॅ0 निशिकांत दूबे ने नगर निगम के अधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक की. बैठक में सांसद ने प्रस्ताव दिया कि गुजरात के साबरमती रिवर फ्रंट की तर्ज पर डढ़वा रिवर फ्रंट बनाया जाये. जिसके लिए डीपीआर बनाया जायेगा. डीपीआर तैयार करने के लिए जल्द ही कंपनी के चयन करने का निर्देश सांसद ने दिया है. 

सांसद डाॅ0 निशिकांत दूबे ने दी जानकारी: 

सांसद डाॅ0 निशिकांत दूबे ने एन सेवन इंडिया से खास बातचीत के दौरान इस योजना के बारे में विस्तार से बताया कि देवघर नगर निगम होने के बाद डढ़वा हमारे शहर के बीचों बीच आ गयी. नगर निगम का एक ईलाका डढ़वा के एक छोर पर है तो दूसरा ईलाका दूसरे छोर पर. यह नदी एक जमाने में बड़ी खुबसूरत हुआ करती थी, जिसके बारे में पुरानी कविताओं में बहुत अच्छा वर्णन मिलता है. लेकिन जिस तरह से आबादी बढ़ रही उसमें पानी की बड़ी समस्या सामने आ रही. और अब यह बड़ी समस्या है कि डढ़वा बचेगी या नहीं. क्योंकि डढ़वा में अतिक्रमण और गंदगी ने इसे सिर्फ बारिश के समय की नदी मात्र बना दिया. सांसद ने बताया कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री बने थे तब साबरमती की भी हालत कुछ ऐसी ही थी. लेकिन उसे फिर से पूनर्जीवित किया गया. 

►साबरमती की ही तर्ज पर दो नदी देवघर में डढ़वा और गोड्डा में कजीहा को एक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जायेगा. जिसको लेकर देवघर में निगम अधिकारियों के साथ बैठक की गयी है. बैठक में डढ़वा रिवर फ्रंट को लेकर पदाधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये गये हैं. 

►सांसद निशिकांत ने बताया कि डढ़वा रिवर फ्रंट के दोनों छोर पर 2.5 किमी का पैदल पार पथ बनेगा, पार्क बनाये जायेंगे, और पार्किंग की व्यवस्था रहेगी. इस ओर से उस ओर जाने के लिए सस्पेंसन ब्रिज बनायें जायेंगे.

►रिवर फ्रंट बन जाने से न सिर्फ डढ़वा का अस्तित्व बच पायेगा, उसमें पानी आ जायेगा बल्कि उसके साथ ही देवघर में आने वाले टूरिस्ट और स्थानीय लोगों के लिए एक खुबसूरत चीज मिल जायेगी जहां वह खुशनूमा पल व्यतीत कर पायेंगे. 

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!