Global Statistics

All countries
176,417,357
Confirmed
Updated on Sunday, 13 June 2021, 10:25:22 am IST 10:25 am
All countries
158,669,108
Recovered
Updated on Sunday, 13 June 2021, 10:25:22 am IST 10:25 am
All countries
3,810,763
Deaths
Updated on Sunday, 13 June 2021, 10:25:22 am IST 10:25 am

Global Statistics

All countries
176,417,357
Confirmed
Updated on Sunday, 13 June 2021, 10:25:22 am IST 10:25 am
All countries
158,669,108
Recovered
Updated on Sunday, 13 June 2021, 10:25:22 am IST 10:25 am
All countries
3,810,763
Deaths
Updated on Sunday, 13 June 2021, 10:25:22 am IST 10:25 am
spot_imgspot_img

खुशखबरी: देवघर कृषि कॉलेज में 19 नवंबर से नियमित पढ़ाई, रजिस्ट्रेशन शुरू

Reported by: राजकुमार  [Edited by: शबिस्ता आज़ाद ]

देवघर।

बिरसा कृषि विश्वविद्यालय रांची की अंगीभूत ईकाई रबिन्द्रनाथ टैगोर कृषि महाविद्यालय की शुरूआत देवघर जिला स्थित मोहनपुर प्रखंड के बैजनाडीह गांव के पास हो चुकी है.

21 नवंबर को होगा विधिवत उदघाटन: 

काॅलेज में कृषि से संबंधित सभी विषयों की पढ़ाई छात्र-छात्राओं को करायी जायेगी. जिसका औपचारिक तौर पर उद्घाटन सूबे के कृषि मंत्री रणधीर सिंह और गोड्डा सांसद डाॅ0 निशिकांत दूबे 21 नवंबर को करेंगे. सत्र की शुरूआत से पहले सोमवार को काॅलेज में छात्र-छात्राओं का रजिस्ट्रेशन और आॅरियेंटेशन प्रोग्राम का आयोजन किया गया. इस दौरान छात्राओं की संख्या अधिक देखी गयी.

19 नवम्बर से शुरू होगी नियमित कक्षा: 

काॅलेज में छात्रों की नियमित कक्षा 19 नवम्बर से शुरू हो जाएगी. कृषि महाविद्यालय में पढ़ाई करने वाले छात्र-छात्राओं के लिए हाॅस्टल की सारी व्यवस्था पूरी हो चुकी है. इस संबंध में आर एन टी ए सी के एसोसिएट डीन ने बताया कि सत्र के दौरान कृषि से संबंधित एग्रोनाॅमी, पौधा संरक्षण, एग्रीक्लचरिंग इंजिनियरिंग, एग्रीक्लचर एक्सटेन्शन, एग्रीक्लचर बाॅयलाॅजी, प्लांट बिटिंग, जेनेटिक्स सहित तेरह विषयों की पढ़ाई होगी. प्रथम सत्र 2018/19 का है. जिसमें रजिस्ट्रेशन और आॅरियेंटेशन कार्य चल रहा है. सत्र का पूरा कैलंडर छात्रों को दिया जाएगा. जिसमें पूरे सत्र की विस्तार पूर्वक जानकारी छात्र-छात्राओं को मिलेगी. छात्र-छात्राओं के भविष्य के लिए मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए काॅलेज चलाने का निर्णय ले लिया गया है. हर संभव सुविधा काॅलेज शुरू होने से पहले पूरा कर लिया जाएगा.

रजिस्ट्रेशन कराने में छात्राओं की संख्या ज़्यादा: 

रजिस्ट्रेशन कराने आयी छात्राओं ने बताया कि कृषि विश्वविद्यालय में पढ़ाई करने के बाद फ्यूचर में बहुत सारे करियर आॅप्शन खुलते हैं. कृषि विभाग में सरकारी नौकरी भी मिल सकती है. छात्र युपीएससी भी कर सकते हैं और अपने आप को काफी आगे ले जा सकते हैं. वहीं, कृषि महाविद्यालय के खुलने पर छात्र-छात्राओं में खुशी देखी गयी. 

सांसद ने जताई ख़ुशी: 

कृषि महाविद्यालय में पढ़ाई की शुरुआत होने पर सांसद डॉ. निशिकांत दुबे ने ख़ुशी जाहिर की. अपने फेसबुक पोस्ट के ज़रिये उन्होंने इस ऐतिहासिक क्षण के लिए प्रधानमंत्री , मुख्यमंत्री और कृषि मंत्री का आभार व्यक्त किया। 

 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles